• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO: अस्पताल की हालत बताते हुए रोने लगे CEO, कहा- 2 घंटे में नहीं आई ऑक्सीजन तो कई मरीजों की होगी मौत

|

नई दिल्ली, अप्रैल 22: दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस की दूसरी लहर देखने को मिली, लेकिन भारत जैसा हाल किसी का नहीं हुआ। देश में बुधवार को 3 लाख से ज्यादा नए मरीज सामने आए, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, बनारस जैसे शहरों में ऑक्सीजन की कमी होती जा रही है। जिस वजह से डॉक्टर भी कुछ नहीं कर पा रहे। हालात का अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि दिल्ली के शांति मुकुंद हॉस्पिटल के CEO सुनील सग्गर मीडिया से बात करते हुए भावुक हो गए।

corona

दरअसल न्यूज एजेंसी एएनआई के रिपोर्टर सुनील सग्गर के पास हालात जानने पहुंचे थे। इस दौरान डॉ. सुनील ने बताया कि अस्पताल में अब कुछ ही घंटों की ऑक्सीजन बची है। ऐसे में उन्होंने डॉक्टरों से साफ कह दिया है कि जिन मरीजों को डिस्चार्ज किए जाने की थोड़ी सी भी गुंजाइश है, उन्हें तुरंत डिस्चार्ज किया जा सके, ताकी जो ऑक्सीजन बची है, उसे आईसीयू में दी जा सके।

पश्चिम बंगाल में कल होने वाली रैली में नहीं जाएंगे पीएम मोदी, कोरोना पर बैठक के चलते लिया फैसलापश्चिम बंगाल में कल होने वाली रैली में नहीं जाएंगे पीएम मोदी, कोरोना पर बैठक के चलते लिया फैसला

उन्होंने आगे कहा कि उम्मीद है जल्द ही ऑक्सीजन आ जाएगी। अभी के हालात को देखते हुए मरीजों को थोड़ी-थोड़ी ऑक्सीजन दी जा रही है, ताकी बचा हुआ स्टॉक देर तक चले। इसके बावजूद उसके दो घंटे तक ही चलने की संभावना है। डॉ. सुनील के मुताबिक अस्पताल में कुल 110 मरीज हैं, जिसमें से 12 वेंटिलेटर पर हैं और 85 अन्य को ऑक्सीजन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों का काम लोगों की जान बचाना है, लेकिन अगर हम उनको ऑक्सीजन नहीं दे पाए तो क्या होगा, मरीज मर जाएंगे। इतना कहते हुए उनके आंसू निकल आए।

English summary
Shanti Mukand Hospital Delhi CEO Sunil Saggar breaks down on Oxygen supply
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X