• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

भारत ने कच्चे तेल पर विंडफॉल टैक्स में की कटौती, जानिए किस पर पड़ेगा इसका असर

Google Oneindia News

भारत ने कच्चे तेल के निर्यात पर विंडफॉल टैक्स को 11,000 रुपए से घटाकर 9,500 रुपए प्रति टन कर दिया है। इस बात की जानकारी वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी आधिकारिक गजट में दी गई है। हालांकि, एविएशन टर्बाइन फ्यूल (ATF) के निर्यात पर विंडफॉल टैक्स 3.50 रुपए प्रति लीटर से बढ़ाकर 5 रुपए और डीजल के लिए 12 रुपए प्रति लीटर से बढ़ाकर 13 रुपए कर दिया गया है। आपको बता दें कि अप्रत्यक्ष या अप्रत्याशित रूप से बड़े लाभ पर लगाया जाने वाले टैक्स को विंडफॉल टैक्स कहते हैं।

windfall tax

वित्त मंत्रालय की तरफ से जारी अधिसूचना के मुताबिक संशोधित टैक्स आज से लागू हो जाएगा। इससे पहले वित्त मंत्रालय की तरफ से एक बयान में कहा गया था कि निर्यात अत्यधिक लाभकारी हो रहा है। ऐसे में यह भी देखा गया है कि कुछ रिफाइनर घरेलू बाजार में अपने पंपों को सुखा रहे हैं। इससे पहले केंद्र सरकार की तरफ से विंडफॉल टैक्स में परिवर्तन 1 जुलाई को किया गया था।

1 जुलाई को विंडफॉल टैक्स में परिवर्तन करने के दौरान सरकार ने कहा था कि इसका डीजल और पेट्रोल की घरेलू खुदरा कीमतों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। इससे पेट्रोलियम उत्पादों की घरेलू उपलब्धता सुनिश्चित होगी। केंद्र सरकार की तरफ से हाल के महीनों में कच्चे तेल की बढ़ती वैश्विक कीमतों के कारण घरेलू कच्चे उत्पादकों की तरफ से जमा किए जा रहे अप्रत्याशित लाभ को ध्यान में रखते हुए कच्चे तेल पर 23,250 रुपए प्रति टन का उपकर लगाया गया था।

विंडफॉल टैक्स को हर 15 दिन पर समीक्षा करती है केंद्र सरकार
केंद्र सरकार की तरफ से हर 15 दिन पर विंडफॉल टैक्स की समीक्षा की जाती है। इससे पहले 16 अक्टूबर को विंडफॉल टैक्स की समीक्षा की गई थी। तब विंडफॉल टैक्स को 8000 रुपए प्रतिटन से बढ़ाकर 11000 रुपए प्रतिटन कर दिया गया था। जबकि एटीएफ पर 3.5 रुपए प्रति लीटर ही टैक्स लगाया गया था।

विंडफॉल टैक्स का इन कंपनियों पर पड़ता है असर
विंडफॉल टैक्स का प्रभाव उन कंपनियों पर पड़ता है, जो देश में मौजूद ऑयल फील्ड से तेल निकालती हैं। इसके अलावा इसका असर तेल को रिफाइन करने वाली कंपनियों पर भी पड़ता है। जिन कंपनियों की तरफ से ऑयल फील्ड तेल निकाला और रिफाइन किया जाता है, उनमें सरकारी कंपनी ओएनजीसी, वेदांता के स्वामित्व केयर्न एनर्जी, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और रोजनेफ्ट आधारित नायरा एनर्जी शामिल है।

ये भी पढ़ें- अक्टूबर में सरकार को टैक्स से हुई जमकर कमाई, 1.51 लाख करोड़ रुपए का हुआ GST कलेक्शन

Comments
English summary
india cuts windfall tax crude oil and hike aviation turbine fuel
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X