• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कैश निकालने वालों को लग सकता है झटका, नए नियम के हिसाब से देना पड़ेगा टैक्स

|

नई दिल्ली। अगर आप भी अधिक कैश निकालने के आदी हैं तो जल्द ही अपनी आदत बदल लीजिए। कैश निकासी को लेकर नए नियम बनाए जा रहे हैं। अगर आप साल में 10 लाख रुपए से ज्यादा का कैश निकालते हैं तो आपको जल्द ही टैक्स देना पड़ सकता है। दरअसल सरकार ब्लैकमनी पर भी लगाम लगाने के लिए ये नियम लेकर लगाएगी। इसके साथ-साथ ही डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा मिलेगा।

पढ़ें- बड़ी खुशखबरी! SBI ने अपने ग्राहकों को दिया तोहफा, 1 जुलाई सस्ता होगा कर्ज

10 लाख से अधिक कैश निकालने वाले सावधान

10 लाख से अधिक कैश निकालने वाले सावधान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोदी सरकार एक साल में 10 लाख रुपए से ज्यादा के कैश निकालने वालों पर टैक्स लगाने का विचार कर रही है। सरकार चाहती है कि कैश निकासी को कम किया जा सकेगा। इसके साथ-साथ ब्लैकमनी पर भी लगाम लगाया सकेगा। सरकार डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देना चाहती है।

 हो चुका है विरोध

हो चुका है विरोध

आपको बता दें कि यूपीए सरकार ने भी 10 साल पहले बैंक कैश लेन-देन पर टैक्स को पेश किया था, लेकिन बाद में उन्हें विरोध के चलते वापस लेना पड़ा था। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक मोदी सरकार कैश निकासी को आधार से लिंक करना चाहती है, ताकि कैश में बड़े लेन-देन करने वाले की पहचान करना आसान हो सके और ब्लैकमनी पर लगाम लगाया जा सके।

 पैन कार्ड अनिवार्य

पैन कार्ड अनिवार्य

आपको बता दें कि फिलहाल 50 हजार से अधिक नकद जमा कराने पर आपको पैन कार्ड देना अनिवार्य है। सरकार कालेधन को रोकने के लिए इसे अनिवार्य करना चाहती है। हालांकि सरकार की ओर से अभी इसपर कोई आदेश जारी नहीं किया गया है, फिलहाल इस पर विचार किया जा रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Cash Withdrawal Rule will change, Government May Introduce Tax on Cash Withdrawal Of Rs 10 Lakh in A year.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X