• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Alert: 1 अक्टूबर से बदल जाएगा SBI से कैश निकालने और जमा करने का नियम, जानना जरूरी

|

नई दिल्ली। अगर आप देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के खाताधारक हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। बैंक ने 1 अक्टूबर ने अपने नियमों में बदलाव किया है। 1 अक्टूबर से देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI ने कैश निकालने और जमा करने के नियम में बदलाव किया है। 1 अक्टूबर से कैश निका लने जमा करने के अलावा भी एसबीआई ने अपने कई नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है।

पढ़ें- Good News: अब नहीं कटेगा आपका चालान! जानिए क्या है नया आदेश

 SBI खाताधारकों के लिए खास खबर

SBI खाताधारकों के लिए खास खबर

एसबीआई ने 1 अक्टूबर से बैंक से जुड़े कई नियमों में बदलाव किया है। बैंक ने इसे लेकर सर्कुलर जारी कर दिया है। नए नियम के तहत कैश डिपॉजिट-विड्रॉल करने के अलावा चेकबुक के नियमों में बगलाव किया गया है। एसबीआई ने चेक बुक में पन्ने घटा दिए हैं, वहीं दूसरी तरफ चेक बाउंस होने पर शुल्क को बढ़ा दिया है। बैंक ने नए नियमों की सूची के साथ सर्कुलर जारी किया है।

पढ़ें-कैब में 3 कंडोम रखना है जरूरी, वरना कटेगा चालान, जानिए क्या है इसकी सच्चाई

 एसबीआई ने 1 अक्टूबर से बदला ये नियम

एसबीआई ने 1 अक्टूबर से बदला ये नियम

1. SBI 1 अक्टूबर से बचत खाते पर एक वित्त वर्ष में 25 की जगह केवल 10 चेक ही मुफ्त देगा। इसके बाद चेकबुक लेने पर आपको प्रति चेकबुक 40 रुपए देने होंगे। जबकि अब तक मुफ्त चेकबुक के बाद 10 चेक लेने पर 30 रुपए देने पड़ते थे।

2. वहीं आपको खाते में मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं रखने पर बैंक की ओर से लगने वाले चार्ज में 80 फीसदी की कमी का फायदा मिलेगा।

3 बैंक ने 1 अक्टूबर से खाते में जमा के नियम बदल दिए हैं। बैंक के सर्कुलर के अनुसार आप 1 महीने में अपने खाते में केवल 3 बार ही कैश बिना किसी शुल्क के जमा कर सकेंगे। इसके बाद कैश जमा करने पर आपको प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर 50 रुपए (GST अतिरिक्त)का चार्ज देना होगा। आपको बता दें कि वर्तमान में बैंक खाते में कैश जमा करने को लेकर कोई सीमा निर्धारित नहीं है। आप जितनी बार चाहे उतनी बार कैश जमा कर सकते हैं।

 बैंक ने बदले ये नियम

बैंक ने बदले ये नियम

4. इसके अलावा बैंक ने मंथली मिनिमम बैलेंस का नियम बदल दिया है। बैंक ने 1 अक्टूबर से शहरों इलाके में मिनिमम बैलेंस को 5000 से घटाकर 3000 रुपए, सेमी अर्बन ब्रांच में मिनिमम बैलेंस 2000 रुपए और रूरल ब्रांच में 1000 रुपए मिनिमम बैलेंस रखना होगा।

5. कैश निकासी के नियम को भी बदला गया है। 1 अक्टूबर से 25,000 रुपए की अवरेज मंथली बैलेंस राशि वाले खाताधारक महीने में सिर्फ 2 बार मुफ्त नकद निकासी कर सकते हैं। वहीं 50,000 रुपए तक के मंथली बैलेंस वाले खाताधारक 10 मुफ्त नकद निकासी कर सकते हैं। जबकि 1,00,000 रुपए तक के मंथली बैलेंस वाले खाताधारकों को 15 बार फ्री कैश निकासी की छूट दी गई है।

पढ़ें-बड़ी खबर: SBI ग्राहकों को झटका, लोन से जुड़ी ये स्कीम वापस ली, EMI पर पड़ेगा असर

 ऑनलाइन ट्रांजैक्शन में बदलाव

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन में बदलाव

6. 1 अक्टूबर से SBI ने NEFT और RTGS के चार्ज में बदलाव किया है। अब 10,000 रुपए तक का एनईएफटी लेनदेन पर 2 रुपए(GST अतिरिक्त) लगेगा। वहीं 2 लाख से अधिक की NEFT पर 20 रुपए, जबकि RTGS से 2 लाख से 5 लाख तक रुपए ट्रांसफर करने पर 20 रुपए प्लस जीएसटी देना होगा। इसी तरह से 5 लाख तक के ट्रांसफर पर 40 रुपए देना होगा।

 कैश निकालने पर लगेगा चार्ज

कैश निकालने पर लगेगा चार्ज

7. नए नियम के तहत बचत खाते में एक महीने में 3 बार जमा और निकासी फ्री होगा, इसके अधिक करने पर 50 रुपए प्लस जीएसटी लगेगा।

8. वहीं गैर-होम ब्रांच में नकदी जमा करने की अधिकतम सीमा 2 लाख रुपए प्रतिदिन है।

9. बैंक ने 1 अक्‍टूबर से एटीएम चार्ज भी बदल दिए हैं। अब SBI ग्राहक मेट्रो शहरों के एसबीआई एटीएम से अधिकतम 10 बार फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। अब तक ये लिमिट 6 बार थी। वहीं अन्य जगहों के एटीएम से मैक्सिसम 12 फ्री ट्रांजेक्शन किया जा सकेगा। अगर आप एसबीआई से जुड़े नए नियमों के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो https://bank.sbi/webfiles/uploads/index/30082019-UPDATED_LIST_OF_SERVICE_CHARGES.pdf पर क्लिक कर जान सकते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Alert For SBI Account Holders, State bank of India change Cash Deposit and Withdrawal Rules From 1st October.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X