• search
बुलंदशहर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Bulandshahr: क्लासमेट को नहीं, टीचर को मारने के लिए 10वीं का छात्र बैग में लाया था पिस्टल

|

Bulandshahr News, बुलंदशहर। 31 दिसंबर को बुलंदशहर (Bulandshahr) के शिकारपुर थाना क्षेत्र स्थित सूरजभान सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज में कुर्सी पर बैठने को लेकर हुए विवाद में 10वीं क्लास के छात्र ने साथी छात्र गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं, अब इस मामले में एक ओर चौंकाने वाला नया खुलासा हुआ है। दरअसल, 10वीं का छात्र सनी साथी छात्र को मारने के लिए स्कूल बैग में पिस्टल लेकर नहीं आया था, बल्कि वह दो टीचरों की हत्या करने के इरादे से स्कूल पहुंचा था। हालांकि, छात्र को शुक्रवार (01 जनवरी, 2021) दोपहर जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया गया। यहां से उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

    Bulandshahr: कुर्सी के लिए 10वीं के दो छात्रों में हुआ विवाद, साथी छात्र को गोली मारकर की हत्या

    10 class student brought a pistol to kill two teachers not to kill the classmate

    टीचरों से लेना था थप्पड का बदला

    कोई सोच भी नहीं सकता था कि मासूम से दिखने वाले 10वीं क्लास के छात्र सनी के इरादे इतने खतरनाक भी हो सकते है कि वो टीचर द्वारा थप्पड़ मारने पर इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दे सके। दरअसल, 10वीं के छात्र सनी को बुधवार (30 दिसंबर, 2020) दो टीचरों ने एक-एक थप्पड़ पूरी क्लास के सामने उसे मारा था। तब तो वह खामोश रहा लेकिन मन ही मन उसने तय कर लिया था कि, वह इस अपमान का बदला दोनों टीचर की हत्या कर लेगा। घर पहुंच कर चाचा किशनपाल की लाइसेंसी पिस्टल रात ही चुपके से उसने अपने बैग में रख ली थी। हत्या की पूरी योजना वह तैयार कर स्कूल आया था। लेकिन टार्जन ने आगे बैठ कर पूरा खेल बिगाड़ दिया था।

    दोनों टीचरों को मारनी थी तीन-तीन गोलियां

    10वीं के छात्र सनी का इरादा आगे की सीट पर गेट के पास बैठने का था, ताकि आराम से टीचर को गोली मार दें और फिर गेट से फरार हो जाए। लेकिन यहां टार्जन बैठा हुआ था। जो उसकी योजना में बाधक था। इसी कारण वह उसे यहां उठाने का प्रयास कर रहा था। इसी विवाद में उसने गुस्से में टीचर का गुस्सा टार्जन पर उतार दिया और उसे गोली मार दी। छात्र ने पुलिस पूछताछ में बताया कि पिस्टल में छह गोली थी और वह दोनों ही टीचर को तीन-तीन गोली मारने के इरादे से गुरुवार को स्कूल पहुंचा था। जिस सीट पर टार्जन बैठा था, वो सीट ऐसी थी कि टीचर को गोली मार कर वह आसानी से निकला जा सकता था।

    छात्र को भेजा गया बाल सुधार गृह

    बाहर मैदान में दूसरा टीचर मिलना था। उसे वहां तीन गोली मारनी थी। सन्नी के खतरनाक इरादे सुनकर पुलिस व स्वजन भी दंग रह गए। आरोपित के कब्जे से बरामद पिस्टल से चार जिंदा कारतूस बरामद हुए है। उसक बैग से एक और तमंचा-कारतूस भी मिला हैं। हालांकि, छात्र को शुक्रवार दोपहर जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया गया। यहां से उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया है।

    खुद को अपमानित महसूस कर रहा था छात्र

    30 दिसंबर, 2020 को क्लास रूम में जब एक टीचर पढ़ा रहे थे तो किसी बात पर पीछे बैठे हत्यारोपित छात्र ने अचानक सीटी बजा दी थी। इस अनुशासनहीनता पर अध्यापक ने पहले तो उसे डांटा और फिर एक थप्पड़ मार दिया। इसी बीच राउंड पर एक अन्य टीचर भी आ गए और एक थप्पड़ उन्होंने भी मार कर भविष्य में ऐसा न करने की चेतावनी दी। साथियों के सामने थप्‍पड़ खाने को उसने खुद को अपमानित महसूस किया। उस समय तो सन्नी चुप रहा लेकिन मन में उसने दोनों टीचर की हत्या का प्लान बना लिया था।

    ये भी पढ़ें:-Bulandshahr: सब-इंस्पेक्टर आरजू पंवार ने फांसी लगाकर दी जान, फरवरी में होनी थी शादी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    10 class student brought a pistol to kill two teachers not to kill the classmate
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X