• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

भोपाल शहर के 12 युवाओं का अनोखा ग्रुप, सड़कों पर घूमने वाले मंदबुद्धियों की करते हैं देखभाल

भोपाल के अनमोल जीवन ग्रुप के सदस्य मंदबुद्धि, लावारिस लोगों की सेवा कर और मानसिक रूप से बीमार व्यक्तियों का इलाज कराकर एक मिसाल पेश कर रहे हैं। ग्रुप में नौकरीपेशा लोगों के साथ स्टूडेंट भी जुड़े हुए हैं।
Google Oneindia News

भोपाल, 17 जून। राजधानी भोपाल के पुराने शहर में रहने वाले एक दर्जन से ज्यादा स्टूडेंट्स जो अपनी पढ़ाई के साथ-साथ समाज सेवा के अनूठे काम को भी अंजाम दे रहे हैं। दरअसल कुछ नौजवानों ने मिलकर जीवन अनमोल ग्रुप बनाया है। उनके साथ समाजसेवी भी हैं, जो रोड पर घूमने वाले मंदबुद्धि, मानसिक रूप से बीमार लोगों को इलाज और देखरेख का काम करते हैं। शहर के किसी भी क्षेत्र से टीम के सदस्यों को जानकारी मिलती है, तो तुरंत सेवा करने पहुंच जाते हैं। उन्हें ना सिर्फ कपड़े और भोजन उपलब्ध करवाते हैं, बल्कि बीमार होने की स्थिति में उनकी जांच इलाज भी कराते हैं।

यह भी पढ़ें : बैतूल में दो महिलाओं के साथ दो युवकों ने की छेड़छाड़, महिला ने मनचलों को सिखाया सबकयह भी पढ़ें : बैतूल में दो महिलाओं के साथ दो युवकों ने की छेड़छाड़, महिला ने मनचलों को सिखाया सबक

ग्रुप में नौकरी पेशा के साथ ही स्टूडेंट भी है

ग्रुप में नौकरी पेशा के साथ ही स्टूडेंट भी है

जीवन अनमोल ग्रुप के अयान खान ने बताया कि ग्रुप में नौकरी पेशा, समाजसेवी और स्कूल कॉलेज के छात्र-छात्राएं मौजूद है। जो ऐसे लावारिस मरी जगह मन बुद्धि लोगों को सेलेक्ट करते हैं। साथ ही आते जाते समय इन पर नजर भी रखते हैं ऐसे लोगों को स्नान कराने के लिए जब वाटर पंप की जरूरत पड़ती,तो दोस्तों और सदस्यों ने सोशल मीडिया के माध्यम से वाटर पंप खरीदा। वाटर पंप में ₹500 कम पड़ रहे थे तो दुकानदार ने भी मानवता की सेवा को देखते हुए ₹500 कम लिए।

बड़े बाल थे तो कटवाए, गंदे थे तो नहलाया

बड़े बाल थे तो कटवाए, गंदे थे तो नहलाया

अयान खान ने बताया कि एक महिला काफी टाइम से दानिश कुंज कोलार में बहुत बुरी हालत में घूम रही थी जिसको हमारी टीम द्वारा और कोलार पुलिस के सहयोग से आश्रम पहुंचा दिया है। और उनकी साफ-सफाई भी कर दी है अब उनको बहुत अच्छा महसूस हो रहा है. हमारे इस कार्य में साहब सलीम हंसा आंटी ने बहुत समझदारी से इस महिला को समझाया और कंट्रोल किया और हमारे इस कार्य में रोहित मिश्रा, मोहन सोनी द्वारा भी बहुत सहयोग किया गया।

50 से अधिक मंदबुद्धियों को किया चिह्नित

50 से अधिक मंदबुद्धियों को किया चिह्नित

अनमोल जीवन ग्रुप के सदस्यों ने बताया कि अब तक भोपाल की कुछ क्षेत्रों में 50 से अधिक मन बुद्धि मानसिक रूप से बीमार एवं लावारिस मरीजों को चिह्नित किया गया है। जिसमें से वीआईपी रोड, स्टेट बैंक चौराहा और पीर गेट के आसपास रहने वाले 10 लोगों की सेवा की गई। जिसमें से उनके बाल काटने के साथ शेविंग करने के बाद उन्हें वाटर पंप के माध्यम से स्नान कराया गया। वहीं जिनके शरीर में कई जगहों पर गहरे जख्म हो रहे थे उनका इलाज भी करवाया।

अनाथ बेसहारा बुजुर्गों की भी करते हैं सेवा

अनाथ बेसहारा बुजुर्गों की भी करते हैं सेवा

अनमोल ग्रुप के सदस्यों ने बताया कि हमें एक सूचना मिली थी कि एक बुजुर्ग महिला काफी दिनों से परेशान और बीमार स्थिति में बैठी है फिर हमारी टीम मोहन सोनी डॉक्टर जीशान हनीफ विजय भैया साहब सलीम ने परी बाजार वाले आश्रम में जाके बात की और पुलिस थाने की फॉर्मेलिटी पूरी कर, काफी मशक्कत के बाद बुजुर्ग महिला की रहने की व्यवस्था करवाई।

Comments
English summary
Unique group of 12 youth of Bhopal city, take care of the retarded people roaming on the streets
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X