• search
भोपाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Bhopal के 4 बच्चे खेल-खेल में पहुंच गए आगरा, CCTV कैमरे की मदद से पुलिस ने बच्चों को ट्रेन से उतारा

भोपाल के अशोक गार्डन में उस समय सनसनी फैल गई जब एक ही मोहल्ले से चार नाबालिग लापता हो गए थे। पुलिस ने CCTV में बच्चों को ट्रेन में चढ़ते हुए देखा गया है, बाद में पता चला कि बच्चे जिस ट्रेन में बैठे है, वह आगरा पहुंचने वाल
Google Oneindia News

राजधानी भोपाल के अशोक गार्डन में उस समय सनसनी फैल गई जब एक ही मोहल्ले से चार नाबालिग लापता हो गए। परिजनों ने काफी ढूंढा लेकिन बच्चे नहीं मिले। इसके बाद परेशान परिजनों ने अशोका गार्डन थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसके बाद पुलिस ने बच्चों की तलाशी शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस को पता चला है कि बच्चों को ट्रेन में चढ़ते हुए देखा गया है, बाद में पता चला कि बच्चे जिस ट्रेन में बैठे है, वह आगरा पहुंचने वाली है। इसके बाद पुलिस ने आरपीएफ और जीआरपी से संपर्क कर बच्चों को सकुशल स्टेशन पर उतार लिया। बच्चों के सुरक्षित मिलने के बाद भोपाल पुलिस की जमकर सराहना की जा रही है। आइए जानते भोपाल पुलिस ने कैसे बच्चों को ढूंढा..

खेल खेल में निकले थे घर से बाहर

खेल खेल में निकले थे घर से बाहर

भोपाल से लापता हुए बच्चों ने आगरा जीआरपी को पूछताछ में बताया कि खेल-खेल में घर से निकल गए थे। उन्हें ट्रेन में बैठने का बहुत मन था, इसलिए वे ट्रेन में चढ़ा गए। बाद में पुलिस ने बच्चों की परिजनों से बात कराई। बच्चों के परिजनों ने पुलिस का शुक्रिया अदा किया। परिजनों की मानें तो बच्चे खेल रहे थे। तभी अचानक घर से लापता हो गए।

बच्चों को आगरा स्टेशन पर सुरक्षित उतार लिया गया : अशोका गार्डन थाना प्रभारी

बच्चों को आगरा स्टेशन पर सुरक्षित उतार लिया गया : अशोका गार्डन थाना प्रभारी

अशोका गार्डन थाना प्रभारी आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि बच्चे कैलाश नगर सेमरा के रहने वाले हैं सभी एक ही मोहल्ले में रहते हैं। सातवीं और आठवीं कक्षा के सभी छात्र है। बच्चे आपस में एक दूसरे के दोस्त हैं। बच्चे घर के बाहर खेल रहे थे। खेलते खेलते वे सभी भोपाल स्टेशन पहुंच गए। ट्रेन देखकर उनका मन ट्रेन में बैठने का हुआ और सभी ट्रेन में सवार हो गए। परिजनों की सूचना पर बच्चों की आस पास के इलाकों में तलाश की जा रही थी तभी जीआरपी ने सूचना दी बच्चे ट्रेन में चढ़ते हुए दिखाई दिए हैं। इसके बाद बच्चों को आगरा स्टेशन पर सुरक्षित उतार लिया गया।

सीसीटीवी की मदद से बच गया 4 मासूमों का जीवन

सीसीटीवी की मदद से बच गया 4 मासूमों का जीवन

टीआई आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस भोपाल के चप्पे-चप्पे पर बच्चों की तलाशी कर रही थी। 4 बच्चों का अचानक से गायब हो जाना पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती थी। आसपास के इलाकों में सर्चिंग करने के बाद जब जानकारी नहीं मिली तो भोपाल स्टेशन की सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए। सीसीटीवी में देखा तो बच्चे पुडुचेरी नई दिल्ली ट्रेन में चढ़ते नजर आए। बाद में ट्रेन में एक यात्री से संपर्क किया तो उसने बताया कि ट्रेन आगरा पहुंच रही है। यात्री ने बताया कि बच्चे S-4 कोच में सुरक्षित हैं। बाद में पुलिस ने आगरा जीआरपी और आरपीएफ से संपर्क कर बच्चों को सुरक्षित ट्रेन से उतार लिया। इसके बाद परिजनों ने राहत की सांस ली।

परिजन बच्चों का विशेष ध्यान रखें

परिजन बच्चों का विशेष ध्यान रखें

थाना प्रभारी आलोक श्रीवास्तव ने कहा कि परिजन अपने छोटे बच्चों का विशेष ध्यान रखें। खेल खेल में यह बच्चे ट्रेन में सवार होकर न जाने कहा पहुंच जाते। इससे इन बच्चों का जीवन भी बर्बाद हो सकता था। इस मामले में बच्चों से ज्यादा लापरवाही उनके परिजनों की है। क्योंकि बच्चों की उम्र अभी अच्छा बुरा समझने लायक नहीं है। इसलिए माता-पिता को अपने बच्चों के प्रति सजग रहना चाहिए। अगर पुलिस ने समय रहते हुए सीसीटीवी फुटेज चेक नहीं किए होते तो यह बच्चे किसी बड़ी मुसीबत में भी फंस सकते थे।

ये भी पढ़ें : भोपाल की सरकारी बसों में 'पर्दा गैंग' की शातिर महिलाएं चोरी करते हुए CCTV कैमरे में हुई कैद

Comments
English summary
bhopal news 4 children reached Agra in a game play, with help of CCTV camera,RPF police found
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X