• search
इलाहाबाद / प्रयागराज न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO: प्रयागराज में एंबुलेंस नहीं मिली, ठेले पर लादकर पत्नी की लाश को 45 किलोमीटर चला पति

|

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश में प्रयागराज के शंकरगढ़ में यूपी-एंबुलेंस सर्विस मानो नदारद ही है। यहां एक अस्पताल में भर्ती कराई गई महिला की मौत हो गई थी। पति लाश को घर ले जाने की तैयारी करने लगा, मगर उसे एंबुलेंस नहीं मिली। तब एक निजी एंबुलेंस वैन वाले को पूछा तो उसने 3 हजार रुपए किराया मांगा। गरीबी की वजह से पति ने निजी एंबुलेंस नहीं ली। उसके बाद मजबूरी में उसने पत्नी की लाश को एक ठेले पर रखा और उसी के सहारे घर को चल पड़ा। अस्पताल से उसके घर की दूरी करीब 45 किलोमीटर है। इतना सफर उसने ठेले से ही तय किया। सुनने में यह बात अटपटी लग सकती है, मगर सच है।

Husband brought his wife body 45 KM on Rickshaw when ambulance wasnt found

संवाददाता के अनुसार, शंकरगढ़ से प्रयागराज के स्वरुपरानी आए किसान कल्लू की पत्नी सोना के सिर में हफ्तेभर पहले चोट लगी थी। उसे एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उपचार के दौरान सोना का दम टूट गया। कल्लू उसकी लाश को घर ले जाने लगा। उसने एंबुलेंस खोजी, लेकिन नहीं मिल पाई। अस्पताल से जुड़े कर्मचारियों ने कोई रेस्पॉन्स नहीं दिया। अंत: में कल्लू ने एक ठेला किया। उस पर लाश रखकर अपने घर चल पड़ा।

Husband brought his wife body 45 KM on Rickshaw when ambulance wasnt found

इस घटना के वीडियो भी सामने आए हैं। वीडियो में आप उस ठेले को देख सकते हैं। जिसे शव-वाहन के तौर पर इस्तेमाल किया गया। वहीं, इस मामले में जब अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.वाजपेयी से बात की गई, तो उसने कहा कि ऐसी घटना संज्ञान में नहीं आई। जांच के बाद पता चलेगा।

पढ़ें: बुलेट ट्रेन के रूट पर आने वाले हजारों पेड़ कटेंगे, NHSRCL ने किया 1 के बदले 10 पौधे लगाने का वादा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Husband brought his wife body 45 KM on Rickshaw, when he Deprived by Ambulance service at allahabad
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X