• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

परिवार से संबंध बिगड़ रहे हैं, कहीं आपके घर में वास्तुदोष तो नहीं.?

By Pt. Gajendra Sharma
|

नई दिल्ली। आधुनिक युग में भले ही परिवारों का दायरा सिमटता जा रहा है और संयुक्त परिवार से एकल परिवार की ओर लोग बढ़ रहे हैं, लेकिन फिर भी परिवार का महत्व अपनी जगह कायम है। हर व्यक्ति का जुड़ाव और लगाव किसी न किसी प्रकार अपने परिवार से होता ही है, भले ही नौकरी या अन्य कारणों से व्यक्ति को एकल परिवार में रहने को मजबूर होना पड़े। लेकिन कभी-कभी हम देखते हैं कि अच्छे खासे भरे-पूरे परिवार में सब कुछ होते हुए भी परिवार के सदस्यों की एक-दूसरे से बन नहीं पाती है। परिवार आर्थिक रूप से संपन्न् होते हुए भी किसी न किसी बात को लेकर सदस्यों के बीच मनमुटाव होता है। इसका कारण वास्तुदोष हो सकता है।

वास्तुदोष की वजह से होते हैं झगड़े

वास्तुदोष की वजह से होते हैं झगड़े

वास्तुशास्त्र की मानें तो जिस घर में परिवार के सदस्य रहते हैं वहां यदि किसी प्रकार का वास्तुदोष है तो परिजन आपस में लड़ते-झगड़ते रहते हैं। ऐसी समस्या के लिए वास्तुशास्त्र में ही कुछ उपाय बताए गए हैं जिन्हें अपनाकर परिवार में सुख शांति और सहयोग की भावना का विकास किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: Vastu Tips: मकान बनाते समय भूखंड का रखें खास ख्याल

आइए जानते हैं क्या हैं वे वास्तु टिप्स ...

 सकारात्मक और नकारात्मक असर

सकारात्मक और नकारात्मक असर

यह बात विज्ञान भी कहता है कि घर में मौजूद छोटी से छोटी वस्तु में ऊर्जा होती है। वह ऊर्जा सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह की हो सकती है। वास्तुशास्त्र भी ऊर्जा के सिद्धांत पर काम करता है। कुछ वस्तुएं सकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित करती हैं और कुछ नकारात्मक। यह उस वस्तु की प्रकृति पर निर्भर करता है। सबसे पहली बात परिवार के सदस्यों के बीच तालमेल अच्छा बना रहे इसलिए घर के पूर्वी, उत्तरी और पश्चिमी भाग को हमेशा साफ-स्वच्छ रखें। उत्तर-पूर्वी दीवारों पर हिंसक पशु-पक्षियों, युद्ध, ज्वालामुखी, अग्नि, काले बादल आदि तस्वीरें ना लगाएं। इनकी जगह खुशनुमा गार्डन, फूलों और फलों से लदे पेड़, खिलखिलाते बच्चे, बहता पानी, झरना, देवी-देवताओं की तस्वीरें लगाना शुभ रहता है। इनसे सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है और परिवार के बीच सामंजस्य बना रहता है।

आपसी प्रेम में वृद्धि के लिए करें ये उपाय

आपसी प्रेम में वृद्धि के लिए करें ये उपाय

  • पति-पत्नी के बीच नहीं बनती है तो उन्हें बेडरूम में लव बर्ड्स, राधा-कृष्ण की तस्वीर जरूर लगाना चाहिए। इससे आपसी प्रेम में वृद्धि होती है।
  • भाई-बहनों, माता-पिता से लगातार आपका मनमुटाव चलता रहता है। आपसी सामंजस्य और प्रेम की कमी है तो बैठक कक्ष के पूर्वी भाग में जहां प्रात: सूर्य की धूप आती हो, उस जगह क्रिस्टल की बॉल लगाएं। सुबह जब इस क्रिस्टल बॉल पर धूप पड़ेगी तो इसमें प्रकाश परावर्तित होकर पूरे घर में फैलेगा। इससे सकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित होगी और संबंधों में मधुरता आएगी।
भगवान विष्णु या श्रीकृष्ण की तस्वीर

भगवान विष्णु या श्रीकृष्ण की तस्वीर

  • भगवान विष्णु या श्रीकृष्ण की तस्वीर ड्राइंग रूम में लगाने से परिजनों से बिगड़े संबंधों में सुधार आता है।
  • घर के मध्य स्थान या बैठक कक्ष में एक शंख या सीप से बने पर्दे लगाने से परिवार के बीच कैसे भी मतभेद हों वे दूर हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें: Ganesha Visarjan 2018: जानिए गणेश-विसर्जन का शुभ मुहूर्त और समय

lok-sabha-home

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Every individual is different in nature, so maintaining loving relationship within a family is a challenge. Tips for Improve Your Relationship Through Vaastu Shastra.
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X

Loksabha Results

PartyLWT
BJP+27027
CONG+707
OTH101

Arunachal Pradesh

PartyLWT
CONG000
BJP000
OTH000

Sikkim

PartyLWT
SDF000
SKM000
OTH000

Odisha

PartyLWT
BJD000
CONG000
OTH000

Andhra Pradesh

PartyLWT
TDP000
YSRCP000
OTH000

AWAITING

Vinod Kumar Boinapally - TRS
Karimnagar
AWAITING
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more