अपने मंत्रियों की तरह खर्चीले नहीं है पीएम मोदी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मंत्री महंगे फर्नीचर और डस्टबिन को प्राथमिकता देते हैं लेकिन खुद मोदी पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देते हैं।

narendra modi

मोदी के कार्यालय में एयर कंडिशनिंग सिस्टम तब बदला गया जब उसका जीवन काल पूरा हो गया। उनके निजी चेंबर में सिर्फ एक बदलाव देखने को मिला। वो है ट्यूबलाइट्स की जगह एलईडी लाइट्स का लग जाना।

कावेरी विवाद ने छीनी बेंगलुरु की शांति,जल रहा है शहर

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई सूचना में यह बात सामने आई है कि मई 2014 से लेकर अब तक पीएम मोदी के कार्यालय में कोई बदलाव नहीं किया गया है। सिवाय एयरकंडिशनिंग सिस्टम और ट्यूबलाइट की जगह एलईडी लाइट लगाए जाने के।

इस आधार पर वर्गीकृत होते हैं खर्चे

केंद्रीय लोक निर्माण विभाग ने कहा कि सभी खर्चे वित्त मंत्रालय के कंट्रोलर ऑफ एकाउंट्स के निर्देशों के अनुसार किए गए हैं।

फेसबुक पर फैला वायरस, हैक हो रहे अकाउंट, ऐसे बचिए

नियमों के मुताबिक सरकार के खर्चे  सामान,बिल्डिंग या कमरे के आधार पर नहीं बल्कि उनके छोटे या बड़े होने, पर वर्गीकृत किए जाते हैं। इसलिए यह संभव नहीं है कि बिल्डिंग के आधार पर खर्चों का ब्योरा दिया जा सके।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मंत्री महंगे फर्नीचर और डस्टबिन को प्राथमिकता देते हैं लेकिन खुद मोदी पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देते हैं।
Please Wait while comments are loading...