Tap to Read ➤

फ्लाइट टेक ऑफ और लैंडिग के समय सीट सीधी कर बैठें, वरना...

हवाई यात्रा करते समय प्लेन में यात्रियों को टेक ऑफ और लैंडिंग के समय सीट को सीधी कर बैठने को कहा जाता है। जानिए इसके पीछे की वजहें।
फ्लाइट से जाते समय आपने गौर किया होगा कि प्लेन टेक ऑफ और लैंडिग करने से पहले सीट सीधी कर बैठने को कहा जाता है।
जब एयर होस्टेस आपसे सीट सीधी करने को कहें तो इसको हल्के में न लें। वे आपकी सुरक्षा के लिए ही ऐसा कहती हैं।
दो बहुत अहम वजहें हैं जिसको लेकर फ्लाइट में आपको टेक ऑफ और लैंडिंग के समय सीधे बैठने के निर्देश दिए जाते हैं।
पहली वजह तो यह है कि सीधे बैठने पर टेक ऑफ और लैंडिंग के समय आपके शरीर को होने वाले नुकसान का खतरा बहुत कम हो जाता है।
अगर सीट सीधी नहीं होगी तो टेक ऑफ और लैंडिंग के समय आपका चेहरा सामने की सीट से टकरा सकता है। आपके पीछे बैठा यात्री आपकी सीट से टकरा सकता है।
अगर झटके से लैंडिग या टेक ऑफ हो और अगर आपकी सीट पीछे की तरफ हो तो आपका सिर उतने ही फोर्स से सामने की सीट से टकरा सकता है। इससे हेड इंजरी हो सकती है।
दूसरी वजह यह है कि अगर कोई इमरजेंसी हो जाय तो लोगों को प्लेन से जल्दी से जल्दी उतारने में सुविधा हो जाती है।
प्लेन क्रैश होने के हालात में ब्रेस पॉजिशन में तभी बैठा जा सकता है जब सीट सीधी हो।
अगर सीट पीछे करके बैठेंगे तो इमरजेंसी की स्थिति में प्लेन खाली कराने में ज्यादा समय लगेगा जिससे यात्रियों की जान खतरे में पड़ सकती है।
आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ज्यादातर हवाई दुर्घटना टेक ऑफ और लैंडिंग के दौरान ही होने की आशंका रहती है।
इसलिए जब भी आपको टेक ऑफ और लैंडिंग के समय सीट सीधी रखने को कहा जाय, उसका पालन करें, सुरक्षित यात्रा करें।