Tap to Read ➤

कौन है साहा को धमकाने वाले बोरिया मजूमदार?

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा को धमकाने के मामले में पत्रकार बोरिया मजूमदार पर दो साल का बैन लगा दिया है।
BCCI के इस फैसले के बाद अब बोरिया मजूमदार भारत में होने वाली किसी भी घरेलू और इंटरनेशल इवेंट का हिस्सा नहीं बन पाएंगे।
बोरिया मजूमदार अब दो साल तक किसी भी प्रेस कान्फ्रेंस का पार्ट भी नहीं होंगे।
मालूम हो कि बोरिया मजूमदार खेल पत्रकारिता का बड़ा नाम रहे हैं।
वो 9 साल तक India Today समूह में कंसल्टिंग एडिटर पद रह चुके हैं और पिछले साल ही उन्होंने ये पद छोड़ा था।
वो पत्रकार के अलावा स्तंभकार और लेखक भी हैं उन्होंने भारतीय खेल पर बहुत सारी पुस्तकें जैसे Twenty Two Yards to Freedom लिखी है।
बोरिया मजूमदार का जन्म 8 मार्च 1976 को कोलकाता में हुआ था।
उन्होंने अपनी शिक्षा कोलकाता विवि से पूरी की।
वो सचिन तेंदुलकर की आत्मकथा 'प्लेइंग इट माई वे' के co-authore थे।
इंडिया टूडे की नौकरी छोड़ने के बाद उन्होंने अपना नया वेंचर ‘RevSportz’ लॉन्च किया था।
सचिन की विदाई स्पीच