मिर्जापुर वाराणसी मार्ग पर ऑटो को ट्रक ने मारी टक्कर, 2 की मौत, 12 घायल

Subscribe to Oneindia Hindi

मिर्जापुर। टेंपो से मुंडन संस्कार के लिए जा रहे परिवार को मिर्जापुर-वाराणसी मार्ग पर चुनार के सुंदरपुर गांव के समीप सोमवार की दोपहर ट्रक ने टक्कर मार दी। इसमें दो लोगों की मौत हो गई। दुर्घटना में आटो सवार बारह लोग घायल हो गए। चुनार अस्पताल में उपचार के बाद पांच की हालत गंभीर देख वाराणसी रेफर कर दिया गया। चालक ट्रक छोड़कर भाग गया। वाराणसी से लगभग 14 यात्रियों को लेकर ऑटो चुनार आ रही थी। टेंपो में सवार एक अन्य यात्री की मौत हो गयी जिसकी पहचान नहीं हो सकी।

सड़क किनारे ईंट के ढेर के चलते हुयी दुर्घटना

सड़क किनारे ईंट के ढेर के चलते हुयी दुर्घटना

सड़क किनारे ईंट के टूकड़ों का ढेर के चलते दुर्घटना हुई। मुगलसराय के भगवारे गांव निवासी 55 वर्षीय सदाफल अपने परिवार के साथ ऑटो पर सवार होकर जमुई अपने नाती के मुंडन संस्कार में शामिल होने जा रहे थे। ऑटो में कुल लगभग 14 यात्री सवार थे। दोपहर लगभग सवा बारह बजे यात्रियों को लेकर ऑटो जैसे ही चुनार थाना क्षेत्र के सुंदरपुर गांव स्थित ऊषा ईंट भट्ठा के सामने पहुंची। इसी समय चुनार से वाराणसी की ओर जा रहे गिट्टी लदे ट्रक ने दूसरे वाहन को ओवरटेक करते समय सामने से ऑटो में धक्का मार दिया। टक्कर होते ही ऑटो के परखच्चे उड़ गए। घटनास्थल पर ही सदाफल सहित दो लोगों की मौत हो गई। दूसरे 32 वर्षीय मृतक की पहचान नहीं हो सकी है।

दुर्घटना में घायल लोग

दुर्घटना में घायल लोग

चुनार के सुंदरपुर गांव में ट्रक-ऑटो की भिड़ंत में मृतक सदाफल की पत्नी 55 वर्षीय पार्वती देवी, चार वर्षीय सिद्धि, 32 वर्षीय सैफ अली, 13 वर्षीय अंजली व आठ वर्षीय संजली, मध्य प्रदेश सिंगरौली के गढ़वा थाना क्षेत्र के तकई गांव निवासी 22 वर्षीय पप्पू व 30 वर्षीय पंकज केवट, अदलहाट निवासी 32 वर्षीय अनूप जायसवाल, अदलहाट के निजामुद्दीनपुर गांव निवासी 45 वर्षीय शारदा देवी, चुनार बाजार निवासी 40 वर्षीय वंदना देवी, मुगलसराय निवासी 32 वर्षीय तारा देवी घायल हैं जबकि एक को मामूली चोट आई। घायलों में सिद्धि, पार्वती, सैफ, पप्पू व अनूप को वाराणसी रेफर कर दिया गया है।

सड़क किनारे पड़े ईंट का ढेर दुर्घटना का कारण बना

सड़क किनारे पड़े ईंट का ढेर दुर्घटना का कारण बना

मिर्जापुर-वाराणसी मार्ग पर चुनार के सुंदरपुर गांव के पास सड़क किनारे पड़ा ईंट का ढेर सोमवार को दुर्घटना का कारण बना। दुर्घटना में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। ऑटो चालक को सड़क किनारे पटरी नहीं मिलने से अपने ऑटो को बचा नहीं सका। दूसरे वाहन को ओवरटेक करते समय ट्रक ने सामने से ऑटो को धक्का मार दिया। यदि सड़क की पटरी पर ईंट के टुकड़े न पड़े होते तो बड़ी दुर्घटना न होती। ईंट भट्ठा मालिक ने भट्ठों से निकले ईंट के टुकड़ों को कई किमी तक सड़क किनारे रखवा दिया है। सड़क की पटरी गायब होने से आए दिन दुर्घटना हो रही है। इसके पूर्व भी दुर्घटना हो चुकी है। जिला प्रशासन की ओर से भट्ठा मालिकों के मनमाने रवैये के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

Read Also: ताऊ को बचाने के लिए पटरी पर आया भतीजा, दोनों ट्रेन से कट गए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Accident on Mirzapur Varanasi road, two died.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.