• search
सूरत न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

10 साल की अश्मि ने डाक के जरिए प्रधानमंत्री को भेजी थी राखी, PM मोदी ने अब दिया जवाब, क्या लिखा..

|

सूरत। गुजरात में सूरत के एस.वी.पब्लिक स्कूल की 5वीं की छात्रा अश्मि सेठीया की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे गए पत्र का जवाब आ गया है। अश्मि ने रक्षाबंधन के पर्व के मौके पर डाक के जरिए प्रधानमंत्री के लिए राखियां भेजी थीं। करीब 40 दिन बाद अश्मि सेठीया को अपने पत्र का जवाब मिला है। इस पत्र पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हस्ताक्षर हैं। पत्र में मोदी ने लिखा, ''रक्षाबंधन के पावन पर्व के अवसर पर राखी और शुभकामनाएं भेजने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। भाई-बहन के आपसी रिश्ते को मजबूत करने का महान उत्सव रक्षाबंधन हमारी संस्कृति में रचा-बसा एक ऐसा त्यौहार है, जो हमें एकता के सूत्र में पिरोने का कार्य करता है। यह हर्ष का संयोग है कि इस बार स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन एक ही दिन मनाया गया है। रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस की बधाई के साथ आपको अच्छे स्वास्थ्य और उज्जवल भविष्य के लिए हार्दिक शुभकामनाएं।''

11 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने पत्र लिखा

11 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने पत्र लिखा

बता दें कि, अश्मि सेठीया सूरत के गंगासागर रो हाउस, पर्वत गाम में रहती हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से उनके पत्र का जवाब उन्हें 11 सितंबर को पत्र ​लिखकर ही दिया गया। हालांकि, इसे अश्मि तक पहुंचने में काफी समय लग गया। अश्मि के पिता मुकेश सेठीया बताते हैं कि अश्मि ने रक्षाबंधन के एक दिन पहले मीडिया में देखा था कि कई स्कूल के बच्चे प्रधानमंत्री को राखी बांध रहे हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय से यह जवाब मिला

प्रधानमंत्री कार्यालय से यह जवाब मिला

अश्मि ने अपने पिता के समक्ष प्रधानमंत्री को राखी बांधने की इच्छा जताई तो उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय से संपर्क किया। उनकी ओर से अश्मि की इच्छा के बारे में बताया गया, लेकिन कार्यालय से जवाब मिला कि अब यह संभव नहीं है।

देखिए कैसे, अमेरिका की स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी को टक्कर दे रही स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, रोज आ रहे हैं 10 हजार टूरिस्ट्स

अब अगले साल मोदी को राखी बांधना चाहती है अश्मि

अब अगले साल मोदी को राखी बांधना चाहती है अश्मि

जिसके बाद अश्मि ने एक पत्र लिख कर डाक के जरिए प्रधानमंत्री को राखी भिजवाई थी। उसे उम्मीद नहीं थी कि उसके पत्र का जवाब आएगा, लेकिन रक्षाबंधन के करीब 40 दिन बाद अश्मि को प्रधानमंत्री के हस्तक्षार के साथ धन्यवाद पत्र मिला। अश्मि की इच्छा अगले साल रक्षाबंधन पर प्रधानमंत्री निवास जाकर उन्हें राखी बांधने की है।

पढ़ें: देश का सबसे ऊंचा रावण चंडीगढ़ में, 2 महीने से इसे अंतिम रूप देने में लगे हैं 40 कारीगर, 40 फीट की है जूती

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PM Modi's Reply To 10 Year-Old girl Ashmi's letter, Surat news
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X