• search
श्रीनगर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अलगाववादी नेता गिलानी की मौत के बाद जम्मू-कश्मीर में लगी पाबंदियों को हटा दिया गया है, स्थिति सामान्य- पुलिस

|
Google Oneindia News

श्रीनगर, 7 सितंबर। जम्मू-कश्मीर के अलगाववादी नेता और पाकिस्तानी समर्थक सैयद अली शाह गिलानी की मौत के बाद केंद्र शासित प्रदेश में लगाई गईं सभी पाबंदियों को हटा दिया गया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इंटरनेट की बहाली समेत ज्यादातर सभी पाबंदियों को हटा लिया गया है और प्रदेश में स्थिति सामान्य है, लेकिन अभी भी लोगों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है।

 Jammu and Kashmir

बता दें कि हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी की मौत के बाद सुरक्षा की दृष्टि से राज्य में इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं को अस्थाई रूप से बंद कर दिया गया था। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक, दिलबाग सिंह ने कश्मीर घाटी में जमीनी स्थिति से निपटने और शांति बनाए रखने के लिए पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) और सेना की सराहना की।

यह भी पढ़ें: कश्मीर को लेकर रूस ने जताई बड़ी चिंता, अफगानिस्तान से भारत की तरफ आ सकते हैं आतंकवादी

उन्होंने कहा है कि हमें शांति को मजबूत करने के लिए मिलकर आगे बढ़ना होगा ताकि शांति के दुश्मनों की पहचान की जा सके और कानून के तहत उनसे सख्ती से निपटने वाले शरारती तत्वों को बाहर निकाला जा सके। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने पिछले बुधवार को 91 वर्षीय गिलानी के निधन की जानकारी दी थी। गिलानी ने इस साल जून में ऑल पार्टी हुर्रियत कांफ्रेंस (एपीएचसी) से इस्तीफा दे दिया था। गिलानी की मौत के बाद जम्मू-कश्मीर का माहौल शांत दिखाई दिया। किसी ने भी गिलानी की मौत का मातम नहीं मनाया। इसे घाटी में एक बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है।

English summary
Restrictions in Jammu and Kashmir have been lifted after the death of separatist leader Syed Ali Shah: Police
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X