• search
संत कबीर नगर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

संत कबीर नगर: परवेज खान को टिकट देने पर भड़के कांग्रेसी कार्यकर्ता, काफिले पर फेंके ईंट-पत्थर

|

Sant Kabir Nagar News, संत कबीर नगर। लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) की तैयारी में जुटे कांग्रेसियों का संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। संतकबीर नगर संसदीय सीट से कांग्रेस के घोषित उम्मीदवार परवेज खान का जमकर विरोध हुआ। इस दौरान सोमवार को लोकसभा चुनाव की तैयारियों के संबंध में जिले में पहुंचे राष्ट्रीय सचिव सचिन नाइक को भी विरोध का सामना करना पड़ा। बता दें कि कार्यकर्ता टिकट बदले जाने की मांग कर रहे हैं। यही नहीं कार्यकर्ताओं ने पार्टी प्रत्‍याशी परवेज खान की कार पर पथराव भी क‍िया और अंडा भी फेंके।

 बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं का हंगामा

बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं का हंगामा

मीडियो में चल रही खबरों के अनुसार, सोमवार सुबह कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व के निर्देश पर पहुंचे राष्ट्रीय सचिन नायक जब कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे। इसी समय अचानक कमरे के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ता सचिन नायक वापस जाओ के नारे लगाने लगे। कार्यकर्ताओं का कहना है कि जिलाध्यक्ष और घोषित प्रत्याशी परवेज खान को टिकट देना सही नहीं है। उनके स्थान पर पूर्व में चुनाव लड़ चुके रोहित पांडेय औक पूर्व सांसद सुरेंद्र यादव को टिकट देना उचित होगा। सेमरियावां के ब्लाक प्रमुख मुमताज अहमद ने कहा कि जो व्यक्ति प्रधानी का चुनाव नहीं जीत सकता उसे टिकट दे दिया गया है।

कार्यकर्ताओं ने किया पथराव

कार्यकर्ताओं ने किया पथराव

कार्यकर्ताओं के हंगामे को देखते हुए राष्ट्रीय सचिव गोरखपुर रवाना हो गए। इसके बाद जब कांग्रेस प्रत्याशी परवेज खान अपने वाहन में बैठक कर सेमरियावां की तरफ जाने लगे तो कुछ लोगों ने उनकी गाड़ी पर अंडे फेंक दिए और पत्थर मारकर शीशा तोड़ दिया। प्रत्याशी तो बच गए, लेकिन उनके ड्राइवर को चोटें आईं। बता दें कि इससे पहले भी कांग्रेस प्रत्याशी परवेज का विरोध होता रहा है।

प्रत्‍याशी ने विपक्षियों की साजिश बताया

प्रत्‍याशी ने विपक्षियों की साजिश बताया

कांग्रेस प्रत्याशी परवेज खान ने कहा कि हंगामा करना कांग्रेस की संस्कृति नहीं है। कांग्रेस इस सीट से मजबूती से लड़ रही है। यह विपक्षियों की साजिश है। उन्होंने कहा कि उन्हें पहले से ही हमले का अंदेशा था। इसलिए उन्होंने 15 दिन पहले डीएम और एसपी से सुरक्षा की मांग की थी लेकिन इसे गंभीरता से नहीं लिया गया।

हंगामे की सूचना पर पहुंची पुलिस

हंगामे की सूचना पर पहुंची पुलिस

काफी देर तक हंगामा और पथराव की सूचना किसी ने पुलिस को दे दी। मौके पर सीओ सदर रमेश कुमार, कोतवाल प्रदीप सिंह फोर्स के साथ पहुंच गए। इस दौरान उन्होंने हंगाम कर रहे लोगों को शांत कराया। कोतवाल प्रदीप सिंह ने बताया कि अगर प्रत्याशी की तरफ से तहरीर मिलती है तो कार्रवाई की जाएगी।

कौन है परवेज खान

कौन है परवेज खान

धर्मसिंहवा क्षेत्र के सिकरी गांव निवासी परवेज खान (47) को राजनीति विरासत में मिली है। वर्ष-2013 में कांग्रेस का जिलाध्यक्ष बनने से पहले परवेज प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य रहे। वर्ष-2009 में सदस्यता अभियान के प्रभारी रहे। खेसरहा विधानसभा क्षेत्र के चुनाव संचालक और सांथा ब्लॉक के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। इनके पिता जमील अहमद खान कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष रह चुके हैं। लगातार पार्टी से जुडे़ रहने के कारण पार्टी हाईकमान ने परवेज के ऊपर भरोसा जताया है।

ये भी पढ़ें:-गठबंधन प्रत्याशी ने मेनका गांधी को कहा बेदर्द मां और वरुण को बिगड़ैल बेटा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress workers threw stones at the convoy after paying tickets to Parvez Khan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X