• search
राजकोट न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

CAA के समर्थन में भाजपा कर रही सभाएं, पाकिस्तानी हिंदुओं को गुलदस्ते भेंटकर कहा- वेलकम

|

राजकोट. नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में सत्ताधारी भाजपा देशभर में जागरुकता कार्यक्रम आयोजित कर रही है। गुजरात के राजकोट में ऐसे ही एक कार्यक्रम के दौरान भाजपाइयों ने पाकिस्तानी हिंदूओं का फूल मालाओं से स्वागत किया। पाकिस्तान के सोढ़ा समुदाय के परिवार लंबी अवधि के वीजा (एलटीवी) पर राजकोट में रह रहे हैं, वे भारतीय नागरिकता पाना चाहते हैं। भाजपाई नेता और सरकार के मंत्री कई बार ये बात कह चुके हैं कि वे पाक से आने वाले हिंदूओं को भारतीय नागरिकता देंगे। ऐसे में जब राजकोट में रह रहे सैकड़ों पाकिस्तानियों का भाजपाई नेता और कार्यकर्ता स्वागत करने पहुंच गए।'

सीएए के समर्थन में सभा, पाकिस्तानियों को बांटे फूल

सीएए के समर्थन में सभा, पाकिस्तानियों को बांटे फूल

जिन नेताओं ने पाकिस्तानी नागरिकों को फूलों के गुलदस्ते भेंट किए, उनमें गुजरात भाजपा के प्रवक्ता भरत पंड्या, राजकोट के सांसद मोहन कुंदरिया, भाजपा की राजकोट जिला इकाई के अध्यक्ष देवराज सखिया, पूर्व मंत्री जसुबेन कोराट, स्थानीय भाजपा विधायक और पार्टी के अन्य स्थानीय नेता शामिल थे। भाजपा की ओर से शहर के गोंडल रोड पर स्वामीनारायण संप्रदाय के भिक्षुओं द्वारा संचालित एक स्कूल, स्वामीनारायण गुरुकुल में बुद्धिजीवियों और पार्टी कार्यकर्ताओं की यह बैठक आयोजित की गई थी। जिसका शीर्षक था "नागरिकता संशोधन अधिनियम के बारे में जागरूकता बढ़ाना और भारत में रहने वाले पाकिस्तानी नागरिकों का स्वागत करना"।

कोई 12 साल पहले भारत में बसा, कोई लंबी वीजा अवधि पर रह रहा

कोई 12 साल पहले भारत में बसा, कोई लंबी वीजा अवधि पर रह रहा

भाजपा की राजकोट जिला इकाई के महासचिव भरत बोगरा ने बताया कि इस आयोजन में गोंडल और जेतपुर शहर के दो सोड़ा परिवार शामिल हुए। बोगरा ने कहा, "उन्हें फूलों के गुलदस्ते भेंट किए गए, हम सबने इस तरह उनका स्वागत किया।"

आयोजन की कुछ तस्वीरों में पांड्या ने भामरसिंह सोढा को फूलों का एक गुलदस्ता भेंट करते हुए दिखाया, जिन्होंने भाजपा के दुपट्टे को गले में लपेट रखा था, यहाँ तक कि भामसरसिंह के पुत्र महेन्द्रसिंह भी पार्टी का दुपट्टा पहने हुए दिख रहे थे। जबकि, पाकिस्तान के सिंध प्रांत में थारपारकर जिले के पाबूहार के मूल निवासी 33 वर्षीय महेन्द्रसिंह 12 साल पहले भारत आ गए थे और अब उन्होंने भारतीय नागरिकता हासिल कर ली है, उनके पिता भम्मरसिंह और उनके परिवार के कुछ अन्य सदस्य आधिकारिक तौर पर अभी भी पाकिस्तानी हैं। वे वीजा पर भारत में रह रहे हैं।

नहीं बांटे भगवा दुपट्टे

नहीं बांटे भगवा दुपट्टे

हालांकि, भाजपा की राजकोट जिला इकाई के एक अन्य महासचिव भानु मेटा ने दावा किया कि इस आयोजन में किसी भी पार्टी के दुपट्टे का वितरण नहीं किया गया था। मेटा ने कहा, "हमने उन्हें फूल दिए और कहा कि उनका भारत में स्वागत है। हमने उन्हें यह भी बताया कि सीएए उनके लिए बनाया गया है और वे चाहते थे कि उन्हें बहुत जल्द भारतीय नागरिकता मिल जाए। उन्हें भाजपा के स्कार्फ नहीं दिए गए।"

अभी सीएए के बारे में बहुत गलतफहमियां हैं

अभी सीएए के बारे में बहुत गलतफहमियां हैं

मेटा ने आगे कहा, "इस आयोजन का उद्देश्य सीएए के बारे में जागरूकता बढ़ाना था। जैसा कि अभी सीएए के बारे में बहुत गलतफहमी है। इसका मतलब केवल पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक अल्पसंख्यकों को नागरिकता देना और किसी से कुछ लेना देना नहीं है। इस संदेश को फैलाने की जरूरत है।"

सीएए का काम शुरू हो चुका है, एनआरसी घुसपैठिए-आतंकी तत्वों को खदेड़ने का कानून: CM रूपाणी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CAA Support : In Rajkot, BJP leaders greet Pakistani nationals with flowers, Says- Welcome
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X