• search
रायपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Chhattisgarh: द जंगल रंबल का रोमांच शुरू, 19 महीने बाद रिंग पर उतरे विजेंदर सिंह ,जीता मुकाबला

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के बलवीर सिंह जुनेजा स्टेडियम बुधवार की शाम बॉक्सिंग प्रेमियों के शोर से गूंज उठा । रायपुर वालों ने अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी मुकाबले 'द जंगल रंबल' का जमकर आनंद लिया। पहले दिन 19 महीने बाद रिंग
Google Oneindia News

रायपुर, 17 अगस्त। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के बलवीर सिंह जुनेजा स्टेडियम बुधवार की शाम बॉक्सिंग प्रेमियों के शोर से गूंज उठा । रायपुर वालों ने अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी मुकाबले 'द जंगल रंबल' का जमकर आनंद लिया। पहले दिन 19 महीने बाद रिंग में वापसी करने वाले मुक्केबाज विजेंदर सिंह के पंच से घाना के एलियासु सुले परास्त कर दिया। इस अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी बॉक्सिंग का भरपूर लुफ्त उठाया ।

विजेंदर ने कहा,थैंक यू सीएम सर

विजेंदर ने कहा,थैंक यू सीएम सर

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि पेशेवर मुक्केबाजी छत्तीसगढ़ को खेलगढ़ में बदलने का जरिया बनेगी। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में ये पहला पेशेवर मुक्केबाजी मुकाबला है। भारत के पहले पेशेवर मुक्केबाज विजेंदर सिंह इस मुकाबले के लिए बड़े पैमाने पर प्रशिक्षण ले रहे थे। इस मुकाबले के लिए विजेंदर सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया ।

उल्लेखनीय है कि 8 जून को प्रोफेशनल मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने मुख्यमंत्री बघेल से मुलाकात की थी और छत्तीसगढ़ में प्रोफेशनल बाक्सिंग मैच का आयोजन करने के लिए अनुरोध किया था। मुख्यमंत्री ने इस अनुरोध को स्वीकार किया था और उसी तारतम्य में मुख्यमंत्री श्री बघेल की पहल पर राजधानी रायपुर में अंतर्राष्ट्रीय बाक्सिंग मुकाबला आयोजित किया गया। विजेंदर सिंह लगभग 19 महीनों के बाद रिंग में उतरे । इसके लिए उन्होंने मैनचेस्टर में कड़ी ट्रेनिंग ली है।

आयोजन में आकर अच्छा लगा:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

आयोजन में आकर अच्छा लगा:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि इस आयोजन में आकर अच्छा लगा । यह छत्तीसगढ़ के लिए ऐतिहासिक पल है। छत्तीसगढ़ में खेलों को बढ़ावा देने के प्रयासों के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में खेल अकादमी की स्थापना की गई है और खेलों के लिये अलग से प्राधिकरण भी बनाया गया है। इससे आधारभूत सुविधाओं के विकास और खिलाड़ियों को संवारने के काम एक साथ होगा। बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में क्रिकेट का रोड सेफ्टी मैच हुआ।कई बड़े खिलाड़ी यहाँ खेले है। लगातार कोशिश हो रही है खेलो को बढ़ावा मिल और युवा खेलो के लिए प्रेरित हो।

ऐसे आयोजनों से छत्तीसगढ़ के खेलों को आयाम मिलेगा

ऐसे आयोजनों से छत्तीसगढ़ के खेलों को आयाम मिलेगा

सीएम भूपेश ने कहा कि छत्तीसगढ़ को एक खेल राज्य ख़ेलगढ़ के रूप में स्थापित करने को कोशिश जारी है । मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह की पेशेवर लड़ाई इस योजना को और मजबूत करेगी। हमें न केवल लोगों को प्रोत्साहित करना है, बल्कि छत्तीसगढ़ को खेल की महाशक्ति के रूप में पहचान दिलाने के लिए भी तैयारी करनी है।बघेल ने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ में खेलो का माहौल बन रहा है । महिला हॉकी में पहले ही राज्य का प्रतिनिधित्व रहा है अब कॉमन वेल्थ गेम्स में हमारी बिटिया आरुषि कश्यप ने बैडमिंटन में मैडल जीत है। तीरंदाजी में संभावनाएं है।ऐसे आयोजनों से राज्य में खेलो को नया आयाम मिलेगा।

प्रतियोगिता में 6-6 राउंड के पांच मुकाबले हुए

प्रतियोगिता में 6-6 राउंड के पांच मुकाबले हुए

लाइट वेट ग्रुप में पहला मुकाबला अमेय नितिन और असद आसिफ खान के बीच हुआ। इस मुक़ाबले में असद ने बाज़ी मारी।वहीं दूसरा मुकाबला आशीष शर्मा और कार्तिक सतीश कुमार के बीच हुआ, जिसमें कार्तिक सतीश कुमार विजेता घोषित किए गए। तीसरा मैच शैकोम और गुरप्रीत सिंह के बीच हुआ।

गुरप्रीत सिंह इस मैच के विजेता बने। मुक्केबाजी का चौथा मुकाबला सचिन नौटियाल बनाम फैजान अनवर के बीच हुआ। एक मिनट 17 सेकेंड में ही सचिन नौटियाल से फ़ैजान अनवर ने खेल जीत लिया। सचिन नौटियाल फ़ैजान के पंच से पस्त हुए और रिंग छोड़ बाहर चले गए। खेल के नियमों के तहत रेफ़री ने फ़ैजान को विजेता घोषित किया।

सबके आकर्षण का केंद्र रहा विजेंदर- सुले के मुकाबला

सबके आकर्षण का केंद्र रहा विजेंदर- सुले के मुकाबला


बॉक्सिंग की इस प्रतियोगिता में सबके आकर्षण का केंद्र पेशेवर भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह और घाना के एलियासु सुले के बीच हुआ मुकाबला रहा। इस मैच में विजेंदर सिंह ने अपने तगड़े पंच से एलियासु सुले को को मात दी । द जंगल रंबल के पांचवें और इस आख़िरी मुकाबले में केवल दो मिनट 17 सेकेंड में ही एलियास को घूल चटा दी। विजेंदर सिंह ने अपने तगड़े पंच से एलियासु सुले को ऐसी चोट दी कि वे वापसी नही कर सकें और विजेंदर को जीत मिली।

यह भी पढ़ें छत्तीसगढ़ में भाजपा ने किया बड़ा फेरबदल, नारायण चंदेल को बनाया नेता प्रतिपक्ष ,जानिए 4 प्रमुख कारण

Comments
English summary
Chhattisgarh: The thrill of 'The Jungle Rumble' begins, after 19 months, Vijender Singh landed on the ring, won the match
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X