• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Money Laundering Case: शिवसेना नेता भावना गवली को ED ने 20 अक्टूबर को तलब किया

|
Google Oneindia News

मुंबई, 18 अक्टूबर: कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अब शिवसेना सांसद भावना गवली की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने फिर एक बार शिवसेना नेता को तलब किया है। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने समन भेजकर दफ्तर में उपस्थित होने के लिए कहा है। भावना गवली महाराष्ट्र के यवतमाल-वाशिम से सांसद हैं।

Enforcement Directorate

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय ने सांसद भावना गवली (48) को 4 अक्टूबर को भी पूछताछ के लिए बुलाया था। वहीं अब 20 अक्टूबर को फिर हाजिर होने के लिए कहा है। ईडी ने 27 सितंबर को सांसद भावना की कंपनी के डायरेक्टर और उनके सबसे करीबी सहयोगी सईद खान को गिरफ्तार किया था। सईद खान को गिरफ्तारी वित्तीय धनशोधन रोकथाम अधिनियम (PMLA) के तहत की गई थी।

ईडी ने लोकसभा सांसद और शिवसेना नेता भावना गवली के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग और करीब 17-18 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी में शामिल होने का केस दर्ज किया था। ईडी ने शिवसेना नेता के 5 जगहों पर भी छापेमारी की थी, जो 100 करोड़ के घोटाले के आरोप में की गई थी।

ED के सामने फिर पेश हुए CM गहलोत के भाई, कहा- 130 करोड़ के घोटाले का आरोप झूठाED के सामने फिर पेश हुए CM गहलोत के भाई, कहा- 130 करोड़ के घोटाले का आरोप झूठा

जानिए क्या है पूरा मामला?

गौरतलब है कि सांसद पर सरकारी अनुदान और धन प्राप्त करने में अपनी शक्ति का दुरुपयोग करके ट्रस्ट से संबंधित वित्तीय अनियमितताओं में शामिल होने का आरोप लगा है। बीजेपी ने उनके खिलाफ ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग में शिकायत दी थी। आरोप लगाया गया था कि सांसद ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में अपने कार्यकाल के दौरान 100 करोड़ का गबन किया था, जिसके बाद ईडी ने 30 अगस्त को 9 ठिकानों पर तलाशी ली थी।

Comments
English summary
Shiv Sena MP Bhavana Gawali summoned on 20th October by ED connection with money laundering case
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
Desktop Bottom Promotion