• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

रायसेन में टमाटर सड़कों पर फेंकने को क्यों मजबूर हुए किसान?

|

रायसेन। मध्य प्रदेश के रायसेन की सड़कें इन दिनों टमाटर से लाल हो रही हैं। किसान खेतों से टमाटर को सड़कों पर फेंकने को मजबूर है। इसकी वजह ये है कि रायसेन में टमाटर की बम्पर पैदावार हुई है, मगर किसानों को टमाटर के बदले सही दाम नहीं मिल पा रहे हैं। इसलिए टमाटर को पशुओं के लिए सड़कों पर फेंका जा रहा है।

    MP के Raisen में टमाटर को सड़कों पर फेंकने को मजबूर किसान, जानिए क्यों, देखिए Video | वनइंडिया हिंदी

    Why were farmers forced to throw tomatoes on Road in Raisen?

    बता दें कि रायसेन जिला मध्य प्रदेश में सबसे बड़ा टमाटर उत्पादक क्षेत्र है। इसे प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के तहत रायसेन को टमाटर जिला घोषित किया हुआ है।

    मीडिया से बातचीत में रायसेन के किसानों ने बताया कि उन्हें टमाटर की 22 किलोग्राम क्रेट के 40 रुपए मिल रहे हैं, जिससे लागत, बीज और कीटनाशक समेत अन्य खर्च तक नहीं निकल पा रहा। टमाटर के दाम नहीं मिलने पर किसान टमाटर फेंकने के लिए मजबूर हैं ताकि ये पशुओं के तो काम आए।

    Amresh Singh : बिहार के किसान ने उगाई हॉप शूट्स सब्जी, जानिए Hop Shoots क्यों बिकती है ₹ 1 लाख KG

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Why were farmers forced to throw tomatoes on Road in Raisen?
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X