• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Vikas Dubey: बेटे पर क्या कार्रवाई की जाए? बूढ़ी मां ने दिया ये जवाब

|

कानपुर। कानपुर में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। विकास दुबे को गुरुवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया गया है। विकास दुबे जब उज्जैन के महाकाल मंदिर जा रहा था, तब उसे एक सुरक्षाकर्मी ने पहचान लिया और इसकी सूचना पुलिस को दी गई। विकास के पकड़े जाने के बाद उसकी मां सरला देवी का बयान सामने आया है। उन्होंने बताया कि विकास के ससुरालवाले मध्य प्रदेश में रहते हैं। विकास हर साल उज्जैन के महाकाल मंदिर में जाता है। 'विकास पर क्या कार्रवाई की जाए' पूछे जाने पर मां ने कहा कि सरकार जो उचित समझे वो करे, मेरे कहने से कुछ नहीं होगा।

    Vikas Dubey: बेटे पर क्या कार्रवाई की जाए? बूढ़ी मां ने दिया ये जवाब
    7 दिन से फरार चल रहा था विकास दुबे

    7 दिन से फरार चल रहा था विकास दुबे

    विकास दुबे पिछले 7 दिनों से फरार चल रहा था। यूपी पुलिस और एसटीएफ की कई टीमें उसकी तलाश में जुटी थीं। विकास दुबे के खिलाफ 60 से ज्यादा केस दर्ज हैं। अब उसके सिर पर इनाम की राशि भी बढ़ा दी गई थी, उसकी खबर देने वाले को पांच लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की गई थी। बुधवार को विकास फरीदाबाद में देखा गया था, एक सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा था कि वह ऑटो में सवार होकर जा रहा है। विकास दुबे के नोएडा में फिल्म सिटी में सरेंडर करने को लेकर दिनभर सूचना चलती रही। इन सूचना को लेकर फिल्म सिटी के चप्पे-चप्पे पर सुबह से लेकर देर रात तक भारी पुलिस बल तैनात रहा। अब गुरुवार को उसे उज्जैन से गिरफ्तार किया गया है।

    मां ने कहा- सरकार जो उचित समझे वो करे

    मां ने कहा- सरकार जो उचित समझे वो करे

    गैंगस्टर विकास दुबे की मां सरला देवी ने बताया कि विकास के ससुरालवाले मध्य प्रदेश में रहते हैं। विकास हर साल उज्जैन के महाकाल मंदिर में जाता है। 'विकास पर क्या कार्रवाई की जाए' पूछे जाने पर मां ने कहा कि सरकार जो उचित समझे वो करे, मेरे कहने से कुछ नहीं होगा। बता दें, विकास दुबे की मां अपने छोटे बेटे के साथ बिकरू गांव में ही रहती हैं। वारदात के बाद जब पहली बार विकास की मां से बात की गई थी तो उन्होंने कहा था, ''मैं अपने बेटे (विकास दुबे) की शक्ल तक नहीं देखूंगी। उसने जो किया है वो बहुत ज्यादा गलत है। पुलिस उसका एनकाउंटर कर दे।'

    'नेता-नगरी दूर रहती तो शायद विकास शांति से जीवन जी रहा होता'

    'नेता-नगरी दूर रहती तो शायद विकास शांति से जीवन जी रहा होता'

    दो दिन पहले सरला देवी ने एक और बयान दिया था कि अगर नेता-नगरी उससे दूर रहती तो शायद विकास आज शांति से जीवन जी रहा होता। सरला देवी ने कहा था कि विकास करीब पांच साल भाजपा में, 15 साल बसपा और पांच साल सपा में रहा। उन्होंने सवाल उठाया कि अगर वह इतना ही खराब, इतना ही बड़ा अपराधी था तो राजनीतिक पार्टियों और उस वक्त के मुख्यमंत्रियों ने उसे अपने दल में शामिल क्यों किया? सरला दुबे के इस बयान के बाद राजनीतिक गलियारों में हलचल मच गई थी।

    कानपुर एनकाउंटर में बड़ा खुलासा, SO विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा ने ही विकास दुबे से की थी मुखबिरी, गिरफ्तार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    vikas dubey mother reaction on What action to take against gangster son
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X