• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

13 साल के सार्थक ने 'मोदी बाबाजी' को लिखी 37 चिट्ठियां, कहा- मेरे पिता की नौकरी वापस दिलाएं

|

Kanpur News, कानपुर। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 8वी क्लास में पढ़ने वाले सार्थक त्रिपाठी ने 37 चिट्ठियां लिखी हैं। दरअसल सार्थक के पिता सत्यजीत विजय त्रिपाठी उत्तर प्रदेश स्टॉक एक्सचेंज (यूपीएसई) में काम करते थे। जिन्हें साल 2016 में नौकरी से बेदखल कर दिया गया था। ऐसे में पिता की नौकरी वापस दिलाने के लिए सार्थक ने अब तक 36 चिट्ठियां पीएम मोदी को भेजी है। बता दें कि शुक्रवार को सार्थक ने 37 वीं चिट्ठी पीएम को भेजी है।

sarthak tripathi wrote 37th letter PM Modi to help his father

साल 2016 से भेज रहे है चिट्ठी

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, कानपुर निवासी 13 साल का सार्थक त्रिपाठी 8वीं क्लास का छात्र है। 2016 में सार्थक के पिता सत्यजीत विजय त्रिपाठी को उत्तर प्रदेश स्टॉक एक्सचेंज (यूपीएसई) नौकरी से बेदखल कर दिया गया था। सार्थक को अपने पापा का जिम्मेदारियों का एहसास कुछ ऐसा हुआ कि उसने पापा की नौकरी की बहाली के लिए पीएम नरेंद्र मोदी को 2016 से चिट्ठी लिखनी शुरू कर दी।

sarthak tripathi wrote 37th letter PM Modi to help his father

अब तक भेज चुका है 37 चिट्ठी

साल 2016 से सार्थक पीएम नरेंद्र मोदी को 36 चिट्ठियां भेज चुका है। शुक्रावर को सार्थक ने 37वीं चिट्ठी पीएम मोदी को भेजी है। सार्थक ने इन चिट्ठियों में अपने घर की परेशानियों के बारे में भी विस्तार से लिखते हैं। सार्थक ने बताया, 'मैंने मोदी बाबाजी से अपने पिता की मदद करने प्रार्थना की है। मेरे पिता को स्टॉक एक्सचेंज के लोगों ने नौकरी छोड़ने को कहा था। मेरा मानना है कि मेरी चिट्ठियो की वजह से मेरे पिता को जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं। वो लोग मेरे पिता और मेरे परिवार को जान से मार देना चाहते हैं।'

ये भी पढ़ें:- रेप के आरोपी MLA से साक्षी महाराज के मिलने पर बोली पीड़िता-आज तक मुझसे मिलने कभी नहीं आए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
sarthak tripathi wrote 37th letter PM Modi to help his father
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X