• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कानपुर: झोपड़ी में लगी भीषण आग, मासूम भाई-बहन की जलकर मौत

|

कानपुर। कानपुर के घाटमपुर क्षेत्र के गांव गोपालपुर में रविवार सुबह दर्दनाक हादसे ने लोगों का दिल झकझोर दिया। झोपड़ी में लगी भीषण आग की चपेट में आकर मासूम भाई-बहन की जलकर मौत हो गई, जबकि जुड़वां बहनें गंभीर रूप से झुलस गई हैं। गांव वालों ने किसी तरह आग पर काबू पाया। राजस्व टीम ने जांच शुरू कर दी है। खेतों में मजदूरी करने वाले सतराम संखवार की झोपड़ी गांव गोपालपुर से रवाईपुर की ओर जाने वाले रास्ते के किनारे है। झोपड़ी में वह परिवार से साथ में रहता था। पास में ही चाचा राम भरोसे की झोपड़ी है।

innocent brother and sister died from fire in kanpur

फसल कटाई के लिए खेत गए थे मां-बाप, इधर झोपड़ी में लगी आग

रविवार सुबह संतराम पत्नी राधा के साथ फसल की कटाई करने खेत गए थे। राम भरोसे और उसका परिवार भी फसल कटाई करने गया था। सुबह करीब साढ़े 9 बजे रामभरोसे की झोपड़ी में आग लग गई और भीषण लपटों ने संतराम की झोपड़ी को भी चपेट में लिया। तेज लपटें देखकर ग्रामीण दौड़े और आग बुझाने का प्रयास किया। लोगों ने फायर ब्रिग्रेड को भी सूचना दी। आग पर काबू पाने के बाद लोगों ने झोपड़ी के अंदर फंसे बच्चों को बाहर निकाला।

भाई-बहन की जलकर मौत, दो की हालत गंभीर

आग में जलकर संतराम के 4 वर्षीय बड़े पुत्र गोपाल की मौत हो गई, जबकि 3 वर्षीय जुड़वा बच्ची रीता व गीता और एक वर्षीय अनीता उर्फ सीता बुरी तरह झुलस गई। सूचना पर एसडीएम, तहसीलदार भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और झुलसे बच्चों को सीएचसी भिजवाया। डाॅक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद तीनों को हैलट रेफर कर दिया। एसपी ग्रामीण प्रधुम्न सिंह ने बताया कि हैलट ले जाते समय रास्ते में अनीता उर्फ सीता की भी मौत हो गई है।

कोरोना संक्रमण से कानपुर में सोमवार को हुई पहली मौत, मंगलवार को आई युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
innocent brother and sister died from fire in kanpur
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X