• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिका और चीन के विदेश मंत्री ने ज्‍वॉइन्‍ट प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में लगाए एक-दूसरे पर आरोप

|

बीजिंग। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपेयो सोमवार को चीन की राजधानी बीजिंग में थे। यहां पर उन्‍होंने अपनी चीनी समकक्ष वांग याई से मुलाकात की। अमेरिका और चीन के बीच जारी तनाव के बीच पोंपेयो, चीन पहुंचे थे और जिस समय प्रेस कॉन्‍फ्रेंस हो रही थी, दोनों विदेश मंत्रियों के हावभाव से साफ पता लग रहा था कि वे असहज हैं। अमेरिका और चीनके बीच जारी ट्रेड वॉर का असर इस समय पूरी दुनिया पर नजर आने लगा है। इसके अलावा नॉर्थ कोरिया और ताइवान पर भी दोनों देशों के बीच तनाव जारी है।

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में यूएस और चीन ने लगाए एक-दूसरे पर आरोप

एक-दूसरे की आलोचना

पोंपेयो और याई जिस समय प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में मीडियो को संबोधित कर रहे थे, दोनों नेताओं ने आपसी सहयोग पर जोर दिया। वांग ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'हाल ही में अमेरिकी

पक्ष की ओर से लगातार चीन की तरफ व्‍यापार पर जारी टकराव को बढ़ाया गया है। इसके अलावा ताइवान पर कई ऐसे एक्‍शन लिए गए हैं जिनसे चीन का हित और उसके अधिकार

पर असर पड़ता है। इसके अलावा अमेरिका ने चीन की घरेलू और विदेश नीतियों की आधारहीन आलोचना की है।' वांग के मुताबिक चीन का मानना है कि अमेरिका के कदम आपसी

भरोसे पर हमला है और इसकी छाया चीन और अमेरिका के रिश्‍तों पर भी पड़ेगी। वांग याई ने जो कुछ भी कहा उसका पोंपेयो ने कुछ इस तरह से जवाब दिया, 'आप जो कुछ भी

बोल रहे हैं, उस पर हमें हमेशा से असहमति है।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US, China foreign ministers speak uneasy words at joint presser
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X