• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

खून से लथपथ सेल्फी लेने वाले पायलट को मिला यूक्रेन का सबसे बड़ा सम्मान, जानिए कैसे नाम पड़ा था ड्रोन किलर?

शुक्रवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने घोषणा की, "मेजर वादिम ओलेक्सेंड्रोविच वोरोशिलोव को यूक्रेन के हीरो का खिताब दिया जाएगा और ऑर्डर ऑफ द गोल्ड स्टार के साथ प्रस्तुत किया जाएगा।"
Google Oneindia News
Vadym Voroshilov Hero of Ukraine

Image: Instagram/ ___karaya___

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने शुक्रवार को लड़ाकू पायलट मेजर वादिम वोरोशिलोव को सम्मानित किया। मेजर वादिम वहीं पायलट हैं जिनकी अक्टूबर में खून से लथपथ सेल्फी पूरी दुनिया में चर्चित हुई थी। इस घटना के एक महीने से अधिक समय के बाद अब यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने वोरोशिलोव को देश का सर्वोच्च सैन्य सम्मान 'हीरो ऑफ यूक्रेन- ऑर्डर ऑफ द गोल्ड स्टार' का खिताब दिया है।

पूरी दुनिया में चर्चित हुई थी खून से सनी सेल्फी

पूरी दुनिया में चर्चित हुई थी खून से सनी सेल्फी

पायलट वादिम वोरोशिलोव ने 12 अक्टूबर को अपने मिग-29 से ईरानी ड्रोन (शहीद-136) को मार गिराया था। इसी दौरान नष्ट हुए ड्रोन के मलबे से उनका विमान भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। ड्रोन का एक मलबा विमान के कॉकपिट में घुस गया और वोरोशिलोव के गाल और गर्दन को घायल कर गया। विमान जमीन पर गिरता इससे पहले वह पैराशूट की मदद से जेट से बाहर निकल आए। उनका चेहरा खून से लथपथ हो गया। पैराशूट से उतरने के दौरान पायलट वादिम ने खून से सने चेहरे की सेल्फी ली थी जिसे बाद में पूरी दुनिया ने देखा और उनकी बहादुरी की प्रशंसा की।

जेलेंस्की ने बताया, यूक्रेन का हीरो

जेलेंस्की ने बताया, यूक्रेन का हीरो

शुक्रवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने घोषणा की, "मेजर वादिम ओलेक्सेंड्रोविच वोरोशिलोव को यूक्रेन के हीरो का खिताब दिया जाएगा और ऑर्डर ऑफ द गोल्ड स्टार के साथ प्रस्तुत किया जाएगा।" यूक्रेनी राष्ट्रपति ने कहा, "यह उपाधि व्यक्तिगत साहस और यूक्रेन की राज्य संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की सुरक्षा में प्रदर्शित वीरता और यूक्रेनी लोगों की निस्वार्थ सेवा के लिए प्रदान की जाती है।" इस खिताब के मिलने के बाद वोरोशिलोव अब यूक्रेन के सबसे वीर सेनानियों में से एक बन चुके हैं।

कैसे पड़ा ड्रोन किलर नाम?

कैसे पड़ा ड्रोन किलर नाम?

आपको बता दें कि वोरोशिलोव ने 24 फरवरी को यूक्रेन पर रूस के आक्रमण करने से पहले ही विमान उड़ाना छोड़ दिया था। लेकिन इस जबरदस्ती थोपे गए युद्ध के कारण वोरोशिलोव ने फिर से लड़ाकू विमान उड़ाने का फैसला किया और सेना में लौट आए। इसके बाद वोरोशिलोव का पराक्रम पुरानी ने सुना। इस यूक्रेनी पायलट ने रूसी सेना और उसके भाड़े के ड्रोन विमानों के छक्के छुड़ा दिए। वोरोशिलोव ने एक ही सप्ताह में पांच ईरानी आत्मघाती ड्रोनों को मार गिराया। इसके बाद तो वोरोशिलोप को ड्रोन किलर नाम से बुलाया जाने लगा।

फिर से काम पर लौटे वोरोशिलोव

फिर से काम पर लौटे वोरोशिलोव

अक्टूबर महीने में पश्चिम-मध्य यूक्रेन में विन्नित्सिया पर गोलाबारी के दौरान एक ईरानी ड्रोन ने वोरोशलोव के जेट हमला कर दिया था, जिससे कूदने के बाद उनका सिर चोटिल हो गया था। पायलट के घाव अब भर चुके हैं और एक बार फिर से वह मोर्चे पर लौट चुके हैं। 6 दिसंबर को वोरोशिलोव ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में इसके बारे में जानकारी भी दी है। इंस्टाग्राम पर पोस्ट की गई तस्वीर के साथ वोरोशिलोव ने लिखा, 'मैं इतना ही कहूंगा कि कोई भी और कुछ भी हमें तोड़ नहीं सकता!' रूस यूक्रेनी ऊर्जा बुनियादी ढांचे को निशाना बना रहा है, ईरानी निर्मित शहीदी आत्मघाती ड्रोन का उपयोग करके ट्रांसफार्मर और बिजली संयंत्रों को उड़ा रहा है।

'भारत सिर्फ US का सहयोगी नहीं... भविष्य का महाशक्ति है', अमेरिकी अधिकारी ने बताया, कैसे पीएम मोदी को मनाया?'भारत सिर्फ US का सहयोगी नहीं... भविष्य का महाशक्ति है', अमेरिकी अधिकारी ने बताया, कैसे पीएम मोदी को मनाया?

Comments
English summary
Ukraine President Volodymyr Zelenskyy honoured the fighter pilot who took a selfie of his bloodied face after ejecting from his plane
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X