• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

वुहान लैब में चीन ने बनाया है कोरोना वायरस, साबित करने वाली डॉक्‍टर का ट्विटर अकाउंट सस्‍पेंड

|

वॉशिंगटन। माइक्रो ब्‍लॉगिंग साइट ट्विटर ने चीन की उस वायरोलॉजिस्‍ट का ट्विटर अकाउंट सस्‍पेंड कर दिया है जिसमें दावा किया गया था कि कोरोना वायरस एक प्राकृतिक नहीं बल्कि लैब में तैयार वायरस है। चीनी वैज्ञानिक ली मेंग यान ने पिछले दिनों दावा किया था कि कोरोना वायरस को वुहान की बदनाम लैब में ही तैयार किया गया। उन्‍होंने कहा था कि उनके पास अपनी बात को साबित करने के लिए सुबूत भी है। कोरोना वायरस महामारी में अब उन्‍हें एक व्‍हीसिलब्‍लोअर के तौर पर देखा जा रहा है। यान ने चीन से भागकर आ गई हैं और अब अमेरिका में कहीं रह रही हैं।

china-corona.jpg

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    Wuhan Lab में बना है Coronavirus, खुलासा करने वाली डॉक्‍टर का Twitter Account बंद | वनइंडिया हिंदी

    यह भी पढ़ें-चीनी वैज्ञानिक ने कहा, लैब में तैयार हुआ है कोरोना

    ट्विटर की तरफ से कोई टिप्‍पणी नहीं

    ब्रिटिश अखबार डेली मेल ने कहा है कि मंगलवार को यान का टि्वटर हैंडल बंद कर दिया गया था। उन्‍होंने चीन पर जानबूझकर कोविड-19 तैयार करने और फिर दुनियाभर में इसे फैलाने का आरोप लगाया था और इसके बाद ही उनका ट्विटर अकाउंट बंद है। उनके अकाउंट पर क्लिक करने पर बस एक ही मैसेज मिलता है, 'अकाउंट सस्‍पेंडेड।' कहा जा रहा है कि ट्विटर ने उनका अकाउंट कुछ नियमों के उल्‍लंघन पर सस्‍पेंड कर दिया है। अभी तक कंपनी की तरफ से इस पूरे मसले पर कोई टिप्‍पणी नहीं की गई है कि आखिर क्‍यों यान का अकाउंट बंद किया गया है।

    12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    मई में दी थी ट्विटर ने वॉर्निंग

    मई में ट्विटर की तरफ से एक वॉर्निंग मैसेज जारी किया गया था कि ऐसी ट्वीट जिनमें विवादित कोरोना वायरस के बारे में कोई भी दावा हो, उन पर कार्रवाई की जा सकती है। यह भी स्‍पष्‍ट नहीं है कि यान की कौन सी ट्वीट के बाद ट्विटर को लगा कि उन्‍होंने कंपनी के नियमों का उल्‍लंघन किया है। ली ने कहा था कि कोरोना वायरस वुहान की लैब से निकला था न कि किसी वेट फूड मार्केट से। यान, हांगकांग यूनिवर्सिटी में बतौर रिसर्चर काम कर रही थीं जब उन्होंने कोरोना वायरस के पर स्टडी शुरू की। चीन बार-बार इस आरोप से इनकार कर देता है कि वायरस लैब से निकला है। डॉक्‍टर यान के मुताबिक वायरस के जीन सिक्‍वेंस किसी फिंगर प्रिंट की तरह होते हैं जिससे ये पता लगाया जा सकता है कि यह लैब से आया है या ये प्राकृतिक है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Twitter suspends account of Chinese virologist claimed Cronavirus was developed in Wuhan lab.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X