• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सऊदी अरब: 'करप्शन पर मुहिम' से मिले 106 अरब डॉलर

By Bbc Hindi
क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान
FAYEZ NURELDINE/AFP/Getty Images
क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान

सऊदी अरब ने 'भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ जो मुहिम' शुरू की थी, उसके 'नतीजे' आने लगे हैं.

सरकार के अटॉर्नी जनरल ने बताया कि इस 'अभियान में सेटलमेंट के तौर पर' 106.7 अरब डॉलर की 'वसूली' हुई है.

भारतीय मुद्रा में ये रकम करीब 6,805 अरब 32 करोड़ 60 लाख रुपये बनती है.

अटॉर्नी जनरल शेख सऊदी अस-मुजीब ने कहा, "चार नवंबर को हिरासत में लिए गए 381 लोगों में से अब भी 56 लोग नज़रबंद हैं. उनसे पूछताछ की जा रही है. बाक़ी लोगों ने अपना जुर्म कबूल कर अपनी प्रॉपर्टी, नकदी, शेयर्स और दूसरी जायदाद सौंप दी हैं."

हालांकि उन्होंने नज़रबंद लोगों के नाम नहीं बताए लेकिन ये माना जा रहा है कि इसमें शहज़ादे, मंत्री और कारोबारी हैं.

पैसा देकर आज़ाद हुए सऊदी अरब के अरबपति प्रिंस

ब्यूटी कॉन्टेस्ट के लिए ऊंटनियों की सर्जरी

रियाद का रिट्ज़-कार्लटन होटल
Reuters
रियाद का रिट्ज़-कार्लटन होटल

'रिट्ज़-कार्लटन' होटल

पिछले दिनों अरबपति निवेशक प्रिंस अलवलीद बिन तलाल और अलवलीद अल-इब्राहिम को 'रिट्ज़-कार्लटन' होटल से रिहा कर दिया गया था.

अलवलीद अल-इब्राहिम अरब टेलीविज़न नेटवर्क 'एमबीसी' के मालिक हैं. 'रिट्ज़-कार्लटन' वही होटल है जहां हिरासत में लिए गए ख़ास लोगों को नज़रबंद रखा गया था.

छोड़े गए दोनों ही लोगों ने ये ज़ोर देकर कहा था कि वे निर्दोष हैं लेकिन सऊदी अधिकारियों का कहना है कि इन दोनों ने अपनी 'ग़लती' स्वीकार करने के बाद रिहाई के लिए 'वित्तीय समझौते' पर रज़ामंदी दी थी.

रिहा किए जाने वाले अन्य लोगों में प्रिंस मितेब बिन अब्दुल्लाह के बारे में सूत्रों के हवाले से ये कहा जा रहा है कि उन्होंने एक अरब डॉलर से ज्यादा की प्रॉपर्टी सरेंडर की है.

प्रिंस मितेब बिन अब्दुल्लाह सऊदी अरब के पुराने सुल्तान मरहूम किंग अब्दुल्ला के बेटे हैं.

क़तर का वो शहज़ादा जो यूएई में 'हिरासत' में लिया गया

फुटबॉल मैच में सऊदी महिलाओं ने बनाया इतिहास

56 अब भी हिरासत में...

प्रिंस मितेब बिन अब्दुल्लाह के अलावा रिहा किए जाने वालों में स्टेट मिनिस्टर इब्राहिम अल-असफ़ का नाम भी लिया जाता है.

शेख मुजीब ने कहा कि 'हिरासत में बचे 56 लोगों के साथ 'सरकार ने समझौता करने से इनकार कर दिया है' क्योंकि 'उनके ख़िलाफ़ अन्य आपराधिक मुक़दमे लंबित हैं' और 'आगे की जांच जारी रखने के लिए उन्हें हिरासत में रखा गया' है.

माना जा रहा है कि इन लोगों को रिट्ज़-कार्लटन होटल से जेल ट्रांसफ़र कर दिया गया है. ये होटल अगले महीने फिर से खुलने वाला है.

'राजनीतिक बंदियों को रिहा करे सऊदी अरब'

सऊदी अरबः प्रदर्शन करने वाले 11 राजकुमार गिरफ़्तार

'भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम'

पिछले हफ़्ते वित्त मंत्री मोहम्मद अल-जदान ने कहा था कि इन वित्तीय समझौतों से मिले पैसे का इस्तेमाल सऊदी नागरिकों का जीवन स्तर सुधारने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रम में खर्च किया जाएगा. ये कार्यक्रम 13.3 अरब डॉलर का है.

किंग सलमान के 32 वर्षीय बेटे क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने 'भ्रष्टाचार विरोधी मुहिम' शुरू की है.

विश्लेषकों का कहना है कि ये मुहिम दरअसल सत्ता पर काबिज़ होने की लड़ाई है लेकिन क्राउन प्रिंस इन आरोपों को 'बेतुका' बताते हैं.

प्रिंस सलमान का कहना है कि जून में उनके क्राउन प्रिंस घोषित होने के बाद कई लोगों ने उनकी वफ़ादारी की कसमें खाई थीं और हिरासत में ऐसे लोगों को भी लिया गया है.

सऊदी अरब में शतरंज की बिसात, इसराइल को शह

अमीरात-ट्यूनीशिया संकट का 'टेरर एंगल'

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Saudi Arabia 106 billion from campaign on corruption

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X