• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

कुर्दिश आतंकवादियों को सीरिया में घुसकर मारेंगे! तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन ने खाई कसम

तुर्की और अमेरिका दोनों ही PKK को एक आतंकी समूह मानते हैं। लेकिन सीरिया में ISIS समूह के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका के साथ खड़े सीरियाई कुर्दिश फोर्स को लेकर असहमत हैं।
Google Oneindia News

तुर्की (Turkey) सीरिया में एक सैन्य ऑपरेशन की योजना बना रहा है। बता दें कि सीरिया (Syria) में रह रहे कुर्दिस्तानी उग्रवादी को तुर्की ने आतंकवादी घोषित कर रखा है। हालांकि, कुर्दिस्तानी उग्रवादी खुद को कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी कहती है। वहीं, तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन (Recep Tayyip Erdoğan) इस मुद्दे पर सख्त एक्शन लेने का मूड बना चुके हैं। दूसरी तरफ रूस ने इस मसले पर तुर्की से संयम बरतने का आह्वान किया है लेकिन एर्दोगन ने कुर्दिस्तानी आतंकियों को ठिकाने लगाने की कसम खा चुके हैं। उन्होंने कहा कि तुर्की जल्द सीरिया में ग्राउंड ऑपरेशन शुरू करेगा।

सीरिया में ग्राउंड ऑपरेशन होगा

सीरिया में ग्राउंड ऑपरेशन होगा

इस बारे में तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन ने एक बयान जारी किया, जिसमें उन्होंने कहा, 'ईश्वर की इच्छा से हम जल्द ही अपने टैंकों, हथियारों और सैनिकों की मदद से उन सभी को खदेड़ देंगे।' रविवार को अंकारा के सैन्य विमानों ने उत्तरी सीरिया और पूरे इराक में दर्जनों कुर्द ठिकानों को निशाना बनाया था।

तुर्की आतंकियों को खत्म कर देगा

तुर्की आतंकियों को खत्म कर देगा

ये कार्रवाई इस्तांबुल में हुए विस्फोट में छह लोगों की मौत और 80 लोगों के घायल होने के बाद की गई है। तुर्की के रक्षा मंत्रालय ने रविवार को ट्विटर पर एक बयान जारी करते हुए इस रेड की घोषणा की थी। तुर्की के रक्षा मंत्रालय ने रविवार की सुबह-सुबह ट्वीट किया, 'गिनती का समय आ गया है। हमलों को अंजाम देने वालों को जवाबदेह ठहराया जाएगा।' इसके साथ ही एक तस्वीर भी ट्वीट की गई थी। तुर्की का साफ कहना है कि सभी कुर्द आतंकी उनके निशाने पर हैं।

आतंकी हमला हुआ था

आतंकी हमला हुआ था

13 नवंबर को इस्तांबुल के एक व्यस्त बाजार में आतंकी हमला हुआ था। तुर्की ने इस धमाके के लिए कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (PKK) को जिम्मेदार ठहराया था। वहीं कुर्दिश लड़ाकों ने इस घटना में शामिल होने से इनकार किया था। बता दें कि, PKK ने 1984 से तुर्की के खिलाफ विद्रोह छेड़ रखा है। यह हमला 2015 और 2017 के बीच तुर्की में हुए हमलों के बाद पांच साल में सबसे घातक था। वहीं अंकारा ने एक अन्य ट्वीट में बम गिराने का वीडियो जारी किया। रक्षा मंत्रालय ने ट्वीट किया, 'आतंक के घोसले पर सटीक प्रहार।' सेना ने एक बयान में कहा, 'संयुक्त राष्ट्र चार्टर के अनुच्छेद 51 के तहत हमें आत्मरक्षा का अधिकार है। इसी के जरिए हमने इराक और सीरिया के उत्तर में क्षेत्रों में आतंक के अड्डों पर हवाई अभियान चलाया।'

तनाव बढ़ने के आसार

तनाव बढ़ने के आसार

तुर्की नेता ने उत्तरी सीरिया में एक नए सैन्य अभियान की धमकी दी थी। इस महीने के हमले के मद्देनजर उन खतरों को बढ़ा दिया है। एर्दोगन ने आर्टविन के काला सागर प्रांत में आयोजित एक समारोह में कहा, हम अपने विमानों, तोपों और ड्रोन की सहायता से आतंकियों को उनके अंजाम तक पहुंचाएंगे। बता दें कि, तुर्की और अमेरिका दोनों ही PKK को एक आतंकी समूह मानते हैं। लेकिन सीरिया में ISIS समूह के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका के साथ खड़े सीरियाई कुर्दिश फोर्स को लेकर असहमत हैं।

(Photo Credit: Twitter & PTI)

ये भी पढ़ें:भारत, ऑस्ट्रेलिया और US... चीनी 'साइलेंट किलर' के रडार पर तीनों, जानें कितना खतरनाक है JL-3ये भी पढ़ें:भारत, ऑस्ट्रेलिया और US... चीनी 'साइलेंट किलर' के रडार पर तीनों, जानें कितना खतरनाक है JL-3

Comments
English summary
Ankara launched a series of air strikes in Operation Claw-Sword on Sunday — hitting dozens of Kurdish targets across Iraq and Syria — and announcing that its military was once again “on the top of the terrorists”.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X