• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले पुतिन ने दिया समझौते का प्रस्ताव, चुनाव में हस्तक्षेप को लेकर कही ये बात

|

मास्को। रूस ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने कहा कि वे रूस (Russia) और अमेरिका (America) के बीच एक ऐसे समझौता चाहते हैं जिसमें दोनों देश एक दूसरे के चुनावों में हस्तक्षेप न करने पर सहमत हों। बता दें कि तीन नवम्बर को अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होना है। ऐसे में ब्लादिमीर पुतिन के बयान को बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है। शीत युद्ध खत्म होने के बाद रूस और अमेरिका के संबंध निचले स्तर पर हैं।

Vladimir Putin

अमेरिका में पिछले राष्ट्रपति चुनाव में ट्रम्प की जीत के बाद डेमोक्रेटिक पार्टी ने चुनावों में रूस द्वारा हस्तक्षेप का आरोप लगाया था। आरोपों के बाद अमेरिका में जांच भी बैठाई गई थी जिसका राष्ट्रपति ट्रम्प ने विरोध किया था। बाद में ये मामला काफी तूल पकड़ा था।

दोनों देशों के बीच समझौता चाहते हैं पुतिन

अब अमेरिकी चुनाव से पहले रूस के राष्ट्रपति ने कहा है कि वह साइबरस्पेस में घटनाओं को रोकने के लिए रूस और अमेरिका के बीच समझौता चाहते हैं। पुतिन ने कहा कि वे 'एक ऐसे समझौते की पेशकश कर रहे हैं जिसमें दोनों देश सूचना तकनीक या हाईटेक तरीकों के इस्तेमाल से एक दूसरे के आंतरिक मामलों और चुनाव प्रक्रिया में हस्तक्षेप न करने पर सहमत हों।'

अमेरिकी जांच एजेंसियों ने पाया था कि 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में हस्तक्षेप किया था। इसका उद्येश्य चुनावों को राष्ट्रपति ट्रंप के पक्ष में करना था। इसमें डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के चुनाव अभियान को हैक करना भी शामिल था। रूस ने इन आरोपों से इनकार किया था।

राष्ट्रपति ट्रंप एक बार फिर से रिपब्लिक उम्मीदवार के तौर पर मैदान में हैं। वहीं डेमोक्रेट जो बिडन राष्ट्रपति पद के लिए ट्रंप के मुख्य प्रतिद्वंदी हैं।

एजेंसियों के बीच संवाद खोलने को कहा

क्रेमलिन द्वारा जारी बयान में पुतिन ने कहा कि डिजिटल स्पेस में टकराव का खतरा हमारे समय की सबसे बड़ी चुनौती है। हम एक बार फिर से संयुक्त राज्य अमेरिका से एक ऐसे प्रस्ताव पर मंजूरी के लिए अपील करना चाहेंगे जिसमें हम सूचना और संचार प्रोद्योगिकी के उपयोग में अपने संबंधों को नई तरह से परिभाषित करें। इसके लिए व्यवहारिक उपायों के एक व्यापक कार्यक्रम को मंजूरी देने पर दोनों देश सहमत हों।

पुतिन ने इस समझौते की तुलना 1972 के अमेरिकी-सोवियत संधि से की है जिसमें शीत युद्ध के चरम पर समुद्र और हवा में होने वाली घटनाओं को रोकने के लिए समझौता किया गया था।

इसके साथ ही रूसी राष्ट्रपति ने दोनों देशों से अपनी एजेंसियों के बीच फिर से संवाद को फिर से स्थापित करने को भी कहा है जिससे सुरक्षा संबंधी अंतरराष्ट्रीय सूचना एक दूसरे से साझा कर सकें।

रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादीमिर पुतिन ने उतरवा लिए थे अपने विरोधी एलेक्‍सेई नवैलिनी के कपड़े भी!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
putin propose deal that us and russia should agree not to interfere each other election
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X