• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

उड़ाने रद्द...स्कूल कॉलेजों पर लगा ताला, कई इलाकों में लगा सख्त लॉकडाउन, चीन में लौटा कोरोना वायरस

|
Google Oneindia News

बीजिंग, अक्टूबर 22: चीन में एक बार फिर से कोरोना वायरस भयानक प्रकोप के साथ लौट आया है और इसके साथ ही चीन के कई इलाकों में बेहद सख्त लॉकडाउन लगा दिया गया है। अभी तक चीन से जो रिपोर्ट मिल रही हैं, उसके मुताबिक, कई इलाकों में सख्त लॉकडाउन लगाया गया है और सभी शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया गया है। पिछले साल पूरी दुनिया में कोरोना वायरस बांटने वाला चीन इस बार बार बार कोरोना वायरस की चपेट में आ रहा है।

चीन में बड़े पैमाने पर फैला कोरोना

चीन में बड़े पैमाने पर फैला कोरोना

चीन में अधिकारियों ने देश में सैकड़ों उड़ानें रद्द कर दीं हैं और स्कूलों को बंद कर दिया गया है। रिपोर्ट के मुकाबिक, गुरुवार को चीन में बड़ी तादाद में पर्यटक कोविड-19 पॉजिटिव पाये गये हैं, जिसके बाद ची की सरकार सकते में आ गई है और बहुत बड़ी संख्या में टेस्टिंग की जा रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, राजधानी बीजिंग में सख्त लॉकडाउन लगाया गया है और सीमा को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। उस वक्त जब दुनिया के ज्यादादर देशों में कोविड नियमों को हटा लिया गया है और बॉर्डर को पर्यटकों के लिए खोले जा रहे हैं, उस वक्त चीन में भारी संख्या में कोविड-19 के मरीज मिल रहे हैं और देश में लॉकडाउन लगाया जा रहा है।

पांच दिन में मिले भारी संख्या में मरीज

पांच दिन में मिले भारी संख्या में मरीज

चीनी मीडिया का कहना है कि, चीन में कोरोना वायरस के घरेलू मरीज नहीं मिल रह हैं और घरेलू संक्रमण को काफी हद तक कंट्रोल कर लिया गया है, लेकिन चीनी मीडिया के ये दावे इस लिए गलत लगते हैं, क्योंकि लगातार पांच दिनों से चीन के अलग अलग इलाकों से कोरोना वायरस के मरीज मिल रहे हैं और अधिकारी ऑउटब्रेक को कंट्रोल करने के लिए हाथ-पैर मार रहे हैं। बताया जा रहा है कि, ज्यादातर मरीज देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्से से मिल रहे हैं। वहीं, चीन के प्रशासन का कहना है कि, बाहर से आये यात्रियों की वजह से फिर से देश में संक्रमण फैल रहा है और मास टेस्टिंग के जरिए चीन का प्रशासन संक्रमण पर लगाम लगाने की तैयारी कर रहा है।

टूरिस्ट स्पॉट बंद, लगा लॉकडाउन

टूरिस्ट स्पॉट बंद, लगा लॉकडाउन

कोरोना वायरस ऑउटब्रेक को रोकने के लिए स्थानीय सरकारों ने बड़े पैमाने पर परीक्षण शुरू किए हैं और प्रभावित क्षेत्रों में टूरिस्ट स्पॉट और पर्यटन स्थलों, स्कूलों और मनोरंजन स्थलों को बंद कर दिया है, और सख्त लॉकडाउन लगाया गया है। चीन के उत्तर पश्चीमी शहर लान्झू, जिसकी आबादी करीब 40 लाख है, वहां सख्ती के साथ लॉकडाउन लगाया गया है और लोगों से कहा गया है कि जब तक जरूरी ना हो, लोग घरों से बाहर नहीं निकले।

शहर छोड़ने के लिए निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

शहर छोड़ने के लिए निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

रिपोर्ट के मुताबिक, लोगों से कहा गया है कि उन्हें बिना कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट के बिना शहर छोड़ने नहीं दिया जाएगा। वहीं, एविएशन ट्रैकर वैरीफ्लाइट के आंकड़ों के मुताबिक, प्रभावित क्षेत्रों के हवाई अड्डों से सैकड़ों उड़ानों को रद्द कर दिया है। शीआन और लान्झू में दो मुख्य हवाई अड्डों के लिए लगभग 60 प्रतिशत उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। सोमवार को प्रकाशित एक नोटिस में इनर मंगोलिया में एरेनहोट ने कहा कि, शहर के अंदर और बाहर यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया गया है और निवासियों को अपने घरों से बाहर नहीं निकलने को कहा गया है।

ऊर्जा संकट पर भारी असर

ऊर्जा संकट पर भारी असर

वहीं, बुधवार को राज्य के स्वामित्व वाले टैब्लॉइड ग्लोबल टाइम्स ने आगाह किया कि, इनर मंगोलिया में नए वायरस के मामले आने के बाद सप्लाई चेन बुरी तरीके से प्रभावित होगा और देश में कोयला संकट भारी तौर पर बढ़ सकता है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि गुरुवार को 13 नए घरेलू मामले सामने आए हैं।

FATF क्या है, जिसने पाकिस्तान के 'भाईजान' तुर्की को भी ग्रे लिस्ट में डाला? जानिए क्या होगा असरFATF क्या है, जिसने पाकिस्तान के 'भाईजान' तुर्की को भी ग्रे लिस्ट में डाला? जानिए क्या होगा असर

Comments
English summary
China has once again imposed a lockdown in many areas after the corona virus outbreak and schools and colleges have been closed.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X