• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Coronavirus: चीन के ऑयल किंग की वॉर्निंग-दुश्‍मन हो रही है दुनिया, सबसे बुरे समय के लिए तैयार रहना होगा

|

बीजिंग। ' महामारी के बाद दुनिया चीन की दुश्मन बनने को तैयार है और अब हमें अपने सबसे बुरे समय के लिए तैयार होना पड़ेगा,' यह चेतावनी दी है फू चेंग्‍यू ने जो चीन के ऑयल किंग हैं। फू ने जिनपिंग सरकार को चेताया है कि महामारी की वजह से राजनेताओं और बिजनेस वर्ग के लोगों के बीच जो माहौल बन रहा है, उससे अब चिंता करने की जरूरत है। फू चेंग्‍यू चीन के चाइना नेशनल ऑफशोर ऑयल कॉरपोरेशन (सीएनओओसी) और सिनोपेक ग्रुप के चेयरमैन रह चुके हैं। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट ने उनके हवाले से एक आर्टिकल लिखा है और इसमें फू की तरफ से सरकार को दी गई चेतावनी का जिक्र है।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

यह भी पढ़ें-WHO को चीन से मिलेगी 30 मिलियन डॉलर की मदद

    China Oil King Fu Chengyu ने चीन को दी चेतावनी, और Jinping को कह दी बड़ी बात | वनइंडिया हिंदी
    बेदर्दी से अमेरिका रौंदेगा चीन को

    बेदर्दी से अमेरिका रौंदेगा चीन को

    फू ने ऑनलाइन सिंपोसियम में हिस्‍सा लिया जिसे मैगजीन काइजिंग की तरफ से आयोजित किया गया था। फू ने अपनी चेतावनी में 'ब्‍लैक स्‍वान' शब्‍द का प्रयोग किया है। ब्‍लैक स्‍वान का मतलब होता है ऐसे घटनाक्रम जिसके बारे में कभी भी किसी ने नहीं सोचा होगा। फू ने कहा कि अमेरिका, बेदर्दी से चीन के अर्थव्‍यवस्‍था, व्‍यापार, वित्‍त और तकनीक के क्षेत्र में रौंदने को तैयार है। साथ ही अब महामारी की वजही से जो माहौल बना है उसका फायदा वह चीन के खिलाफ वातावरण को तैयार करने में उठाएगा। फू के शब्‍दों में, 'हम आने वाली मुसीबत को सूंघ सकते हैं और इस बात को देख सकते हैं कि चीन के खिलाफ कैसे नई इबारतों को तैयार किया जाने लगा है।'

    महामारी के बाद जिंदा रहने में करनी होगी मशक्‍कत

    महामारी के बाद जिंदा रहने में करनी होगी मशक्‍कत

    उन्‍होंने आगे कहा, 'महामारी के बाद हमारे जिंदा रहने के लिए जरूरी वातावरण बहुत ही गंभीर होने वाला है। हमें अब अपने सबसे बुरे समय के लिए तैयार होना होगा और संभावित नतीजों को हासिल करने में अपना सर्वश्रेष्‍ठ झोंकना होगा।' फू अब रिटायर हो चुके हैं मगर आज भी वह चीन की ऑयल इंडस्‍ट्री में एक प्रभावी शख्‍स माने जाते हैं। उनके पास अमेरिका के पेट्रोलियम सेक्‍टर का अच्‍छा खासा अनुभव है और काफी लोगों से उनके संपर्क हैं। फू चीन की सरकार में वही दबदबा रखते थे जो एक्‍सॉनमोबिल के चेयरमैन रहे रेक्‍स टिलीरसन का था। साल 2006 से 2017 तक टिलीरसन, एक्‍सॉनमोबिल के चेयरमैन थे और वह मार्च 2018 तक अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के प्रशासन में विदेश मंत्री थे।

    चीन और अमेरिका के बीच तनाव कई गुना

    चीन और अमेरिका के बीच तनाव कई गुना

    बीजिंग में एक कार्यक्रम में बोलते हुए फू ने कहा था कि कोरोना वायरस ने चीन और अमेरिका के बीच तनाव को काफी हद तक बढ़ा दिया है। इस तनाव का सीधा असर व्‍यापार पर पड़ेगा और कई सालों तक नजर आएगा। उनका कहना है कि कोरोना वायरस महामारी के बाद पैदा संकट सिर्फ एक या दो वर्ष तक का नहीं बल्कि इसका असर कई वर्षों तक रहेगा। इस दौरान चीन को कई अकल्‍पनीय घटनाक्रमों का सामना करना पड़ सकता है।

    चीन को सावधान रहना होगा

    चीन को सावधान रहना होगा

    फू की मानें तो अब दुनिया की राजनीति बदल रही है और ऐसे में चीन को सावधान रहना होगा। अमेरिका हर संभव कोशिश करेगा कि चीन को अंतरराष्‍ट्रीय पटल से उखाड़ फेंका जाए और ऊर्जा सबसे महत्‍वपूर्ण क्षेत्र होगा। उन्‍होंने यह चेतावनी भी दी है कि अमेरिका, चीन से आने वाली ऑयल सप्‍लाई को खत्‍म कर सऊदी अरब और रूस से हाथ मिला सकता है। ऐसे में चीन को अपनी सुरक्षा के लिए तैयार रहना होगा।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Coronavirus: 'We must prepare for the worst,' China oil titan warns risks for Beijing after pandemic.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X