• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन में अगर बिगड़े हालात तो डॉक्‍टरों को दिया जाएगा Coronavirus से बचने का इंजेक्‍शन!

|

बीजिंग। पूरी दुनिया में इस समय जानलेवा कोरोना वायरस की वैक्‍सीन पर तेजी से काम चल रहा है। पूरी दुनिया में करीब दो लाख लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इस बीच खबरें हैं कि इस वर्ष के अंत तक चीन के कुछ डॉक्‍टरों को इस महामारी की वैक्‍सीन का टीका लगाया जा सकता है। चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स ने चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के हवाले से यह बात कही है।

china-vaccine.jpg

यह भी पढ़ें1000 कंपनियों की नजरें भारत पर, 300 कंपनियों ने सरकार को भेजा प्रपोजल

इस वर्ष के अंत में दिया जाएगा इंजेक्‍शन

ग्‍लोबल टाइम्‍स ने सीडीसी के डायरेक्‍टर गाओ फू के हवाले से लिखा है, 'आपातकाल की स्थिति में कुछ चीनी डॉक्‍टरों को कोरोना वायरस की वैक्‍सीन दी जा सकती है।' उन्‍होंने यह बात उस समय कही जब चीनी सीडीसी पर डॉक्‍टरों की टीम के स्‍वागत के लिए 'वेलकम बैक' नाम से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। ये टीम हुबेई प्रांत के वुहान गई थी और इलाज में लगे डॉक्‍टरों को इसने मदद की थी। वुहान में ही दिसंबर 2019 में कोरोना वायरस का पहला केस सामने आया था। गाओ ने कहा कि किस तरह से महामारी सामने आती है और आपातकाल की स्थिति में कुछ डॉक्‍टरों को नई कोरोना वायरस वैक्‍सीन का इंजेक्‍शन दिया जा सकता है। उन्‍होंने इस बात की तरफ ध्‍यान दिलाया कि किसी भी दवा और वैक्‍सीन का अपना एक विकास क्रम होता है। गाओ ने कहा, 'मेरा मानना है कि हम हर किसी के प्रयासों से एक नई वैक्‍सीन को ईजाद करने में सफल रहेंगे।'

वैक्‍सीन का ट्रायल जारी

गाओ ने बताया कि चीन में इस समय कोरोना वायरस की वैक्‍सीन के दूसरे चरण का ट्रायल शुरू हो गया है। कुछ असक्रिय वैक्‍सीन पहले चरण की टेस्टिंग में है और कुछ ऐसी हैं जो पहले चरण में आने वालीी है। इसके अलावा कुछ और वैक्‍सीन हैं जो पहले चरण में जल्‍द ही दाखिल होंगी। चीन में दो इनएक्टिव वैक्‍सीन को अथॉरिटीज की तरफ से डेवलप करने से जुड़ी हरी झंडी दी जा चुकी है। आपको बता दें कि चीन की वैक्‍सीन रिसर्च और डेवलपमेंट क्षमता को दुनिया टॉप क्‍लास का माना जाता है। गाओ ने कहा कि अगर सामान्‍य प्रक्रिया से वैक्‍सीन डेवलपमेंट की बात करे तो यह इस वर्ष के अंत या फिर अगले वर्ष की शुरुआत तक नहीं आने वाली है। ऐसे में अगर हालात बिगड़े तो फिर कुछ डॉक्‍टरों को वैक्‍सीन दी जा सकती है। उन्‍होंने यह भी कहा कि वैक्‍सीन को सामान्‍य लोगों पर प्रयोग नहीं किया जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chinese doctors would be injected with new Coronavirus vaccine by the end of 2020.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X