• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Yes Bank: RBI की पाबंदी से पहले खाताधारकों ने 6 महीने में यस बैंक से निकाले 18000 करोड़ रु

|

नई दिल्ली। आरबीआई ने नकदी की कमी से जूझ रहे यस बैंक से पैसा निकालने की अधिकतम सीमा 50 हजार रुपए निर्धारित कर दी है। बैंक के ग्राहक एक महीने में 50 हजार से ज्यादा नहीं निकाल सकेंगे। वहीं, बैंक की सालाना रिपोर्ट और रेटिंग एजेंसियों के मुताबिक, 30 सितंबर, 2019 में बैंक में 2,09497 करोड़ रु जमा किए गए जो 31 मार्च, 2019 तक 2,27610 करोड़ रु थी। इस रिपोर्ट के मुताबिक, यस बैंक के खाताधारकों ने पिछले साल अप्रैल से सितंबर के बीच 18000 करोड़ अपने-अपने अकाउंट्स से निकाले।

जमा राशि में 8.64 फीसदी की गिरावट

जमा राशि में 8.64 फीसदी की गिरावट

खाताधारकों द्वारा बैंक में पैसे जमा करने में 8.64 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। जबकि इस अवधि में अन्य बैंकों में जमा राशि में 9.2 फीसदी का इजाफा देखा गया। वहीं, सितंबर 2019 के बाद यस बैंक और अधिक निकासी देखी गई। दिसंबर तिमाही के आंकड़े बैंक की दिक्कतों के कारण आने में वक्त लग रहा है, इसलिए आधिकारिक तौर पर फिगर नहीं आए हैं। सूत्रों के मुताबिक, सितंबर 2019 के बाद जमा राशि में 10-20 फीसदी की कमी आई है।

ये भी पढ़ें: शेयर बाजार में कोहराम जारी, सेंसेक्स 1479 अंक गिरा, निफ्टी में 419 अंकों की गिरावट

राणा कपूर को किया गया गिरफ्तार

राणा कपूर को किया गया गिरफ्तार

इसके पहले, यस बैंक के फाउंडर और पूर्व प्रबंध निदेशक राणा कपूर को मनी-लॉन्ड्रिंग के आरोप में रविवार को प्रवर्तन निदेशालय ने मुंबई की एक अदालत में पेश किया था। सीबीआई ने भी राणा कपूर के खिलाफ केस दर्ज किया है। उनके खिलाफ क्रिमिनल कॉन्सपिरेसी का मामला दर्ज किया गया है। सीबीआई अधिकारी इस मामले में दस्तावेज इकट्ठा कर रहे हैं। ईडी ने राणा कपूर और उनके परिवार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था। इसके बाद राणा कपूर की बेटी रोशनी कपूर को मुंबई एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था। वह ब्रिटिश एयरवेज के विमान से लंदन के लिए रवाना होने वाली थीं।

आरबीआई ने खाताधारकों को किया आश्वस्त

आरबीआई ने खाताधारकों को किया आश्वस्त

दरअसल, आरबीआई ने यस बैंक के बोर्ड को तत्काल प्रभाव से भंग करने के बाद 30 दिन के लिए उसका नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया है। यस बैंक संकट को देखते हुए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि खाताधारकों की कुछ बैंकों में जमा राशि की सुरक्षा को लेकर मीडिया के कुछ हलकों में चिंताएं जताई गई है। ये सारी चिंताएं दोषपूर्ण विश्लेषणों पर आधारित हैं। केंद्रीय बैंक ने कहा कि आरबीआई सभी बैंकों की निगरानी करता है। इसलिए सभी खाताधारकों और जमाकर्ताओं को को आश्वस्त करता है कि उनके किसी भी बैंक में जमा धन की सुरक्षा को लेकर कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Yes bank crisis: depositors pulled out over Rs 18,000 crore in 6 months
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X