• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Aksai Chin-PoK-Gilgit Baltistan को आजाद कराने का वक्त आ चुका है- J&K भाजपा

|

नई दिल्ली- जम्मू-कश्मीर में विपक्षी दलों के गुपकार घोषणा के तहत पीपुल्स एलायंस बनाने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने अपने तेवर और सख्त कर लिए हैं। पार्टी को लगता है कि यह गठबंधन इस संघ शासित प्रदेश में बीजेपी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है। इसलिए प्रदेश भाजपा ने ना सिर्फ गठबंधन के सहयोगियों पर चीन और पाकिस्तान के लिए काम करने का आरोप लगाया है, बल्कि ऐलान किया है कि यही सही वक्त है, जब चीन और पाकिस्तान के कब्जे से अक्साई चिन, गिलगिट बाल्टिस्तान, पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर और शक्सगम घाटी को मुक्त कराया जा सकता है।

Time to liberate Aksai Chin-PoK-Gilgit Baltistan - jammu-kashmir-bjp

आउटलुक में छपी एक खबर के मुताबिक जम्मू और कश्मीर के भाजपा अध्यक्ष रविंदर रैना ने कहा है कि उनकी पार्टी पाकिस्तान और चीन के खिलाफ लड़ेगी और इन देशों का झंडा उठाने वालों को बेनकाब करेगी। रविंदर रैना कहा कि पीओके, गिलगिट बाल्टिस्तान, अक्साई चिन और शक्सगम घाटी भारत का अभिन्न अंग है और मौजूदा समय में इन पर चीन और पाकिस्तान का अवैध कब्जा है। पीपुल्स एलायंस के प्रभाव को लेकर कई संगठनों के साथ हुई एक बैठक दौरान रैना ने कहा है, 'यही समय है जब हमें एकजुट होकर पाकिस्तान और कश्मीर के कब्जे से इन इलाकों को आजाद करने के लिए आगे बढ़ना चाहिए।' उन्होंने यह भी कहा है कि 'गुपकार एजेंडा के तहत नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी का साझा गठबंधन राष्ट्रविरोधी ताकतों का एक एजेंडा है।' जो कश्मीर की हालात को अस्थिर करना चाहते हैं।

रैना का कहना है कि आर्टिकल 370 खत्म होने के बाद जम्मू, कश्मीर और लद्दाख की आम जनता खुशियों से झूम उठी, क्योंकि इसके चलते उनके साथ आपराधिक अन्याय हो रहा था। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि अब्दुल्ला और मुफ्ती ने एक साजिश रची है और उनकी पार्टी राष्ट्रविरोधी कदम को बर्दाश्त नहीं करेगी। उनका आरोप है कि 'गठबंधन का जम्मू-कश्मीर के लोगों की बेहतरी से कोई लेना-देना नहीं है। गठबंधन के सहयोगी सिर्फ पाकिस्तान और चीन के इशारे पर काम कर रहे हैं और आर्टिकल 370 की फिर से बहाली की मांग करना, लगभग नामुमकिन है।'

रैना ने कहा है कि, 'आर्टिकल 370 के चलते ही अलगाववाद और आतंकवाद का जन्म हुआ है और जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तानीकरण विकसित करने की भी कोशिश की गई है, जिसके चलते आतंकवाद को बढ़ावा मिला है और हजारों बेगुनाह लोग मारे गए हैं।'

गौरतलब है कि पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती की हिरासत से छूटने के बाद गुपकार घोषणा के तहत पीपुल्स एलायंस ने आर्टिकल 370 की फिर से बहाली और कश्मीर मुद्दे के समाधान के लिए लड़ने का संकल्प लिया है।

इसे भी पढ़ें- भारत में अलगाववाद को भड़काने की धमकी क्यों देने लगा है चीन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Time to liberate Aksai Chin-PoK-Gilgit Baltistan - J&K BJP
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X