उत्तर प्रदेश के स्कूलों में होगी श्रीमद्भागवत की गायन प्रतियोगिता, सरकार नहीं देगी खर्चा

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की अगुवाई वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार राज्य के स्कूलों में श्रीमद्भागवत गीता पर आधारित गायन प्रतियोगता कराएगी। इस संबंध में प्रदेश सरकार की ओर से सभी स्कूलों को निर्देश दिया है। सरकार की ओर से कहा गया है कि यह फैसला छात्रों को नैतिकता का पाठ पढ़ाने के लिए लिया गया है। अधिकारियों ने जानकारी दी हैकि इसके अंतर्गत हर साल सभी सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में श्रीमद्भागवत गीत पर के आधार पर गायन प्रतियोगिता होगी। जिल स्तर पर जो गायक जीतेंगे उन्हें उन्हें मंडल स्तर की प्रतियोगिता के लिए भेजा जाएगा, जहां 10-10 प्रतिभागियों का चयन कर एक टीम बनाई जाएगी।

उत्तर प्रदेश के स्कूलों में होगी श्रीमद्भागवत की गायन प्रतियोगिता, सरकार नहीं देगी खर्चा

यह टीमों राज्य स्तर पर होने वाली प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। इसमें से 10 विजेता चुने जाएंगे, जिनको मुख्यमंत्री आदित्याथ इसी माह लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान सम्मानित करेंगे। स्कूलों में गीता, हिन्दी, संगीत और संस्कृत की विशेषज्ञों की टीम बनाई जाएगी, जिसके तहत प्रतियोगिता होगी। इस प्रतियोगिता गायन और उच्चारण का परीक्षण किया जाएगा। इस प्रतियोगिता का सारा खर्च स्कूलों को खुद ही उठाना होगा।

गोरखपुर (गोरखपुर और बस्ती मंडल के लिए), फैजाबाद (फैजाबाद और देवी पाटान दोनों विभागों के लिए), वाराणसी (वाराणसी, आजमगढ़ और मिर्जापुर मंडल के लिए), झांसी (झांसी और चित्रकूट प्रभाग) के लिए डिवीजनल स्तर गायन प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। आगरा (आगरा और अलीगढ़ मंडल के लिए), मेरठ (मेरठ और सहारनपुर मंडल के लिए), लखनऊ, इलाहाबाद, कानपुर, मुरादाबाद और बरेली मंडल स्तर पर प्रतियोगिता होगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Singing contests based on Bhagavad Gita in UP schools
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.