• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राजस्थान चुनाव में रोचक हुई जंग, राजघराने के 5 सदस्य आजमा रहे अपनी किस्मत

By विनोद कुमार शुक्ला
|

नई दिल्ली। राजस्ठान के विधानसभा चुनाव में हमेशा से ही रॉयल परिवार की मौजूदगी दिखाई दी है लेकिन पिछले चुनाव के मुकाबले इस विधानसभा चुनाव की बात करें तो ये ट्रेंड कम होता नजर आया है। 2018 के विधानसभा चुनाव में राजपरिवार के 5 सदस्य चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि इसके पहले, 2013 के चुनाव में राजपरिवारों से ताल्लुक रखने वाले 7 सदस्यों ने चुनाव लड़ा था। इस विधानसभा चुनाव में अधिकांश भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं।

5 राजघराने के सदस्य चुनाव मैदान में

5 राजघराने के सदस्य चुनाव मैदान में

इन 5 में से 4 राजपरिवार के सदस्य बीजेपी के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं जबकि एक राजपरिवार को कांग्रेस ने टिकट दिया है। हालांकि देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था है फिर भी राजपरिवार से चुनाव के मैदान में उतरने वाला उम्मीदवार जनता के लिए हमेशा ही आकर्षण का केंद्र रहता है और लोग उनका बहुत सम्मान भी करते हैं। यही वजह है कि लगभग हर चुनाव में राजपरिवार के किसी न किसी सदस्य ने चुनाव लड़ा है। राजस्थान के इन रॉयल परिवारों ने 1962, 1967 और 1972 में 'स्वतंत्र पार्टी' बनाकर चुनाव लड़ा जिसमें 1962 में 36 सीटें, 1967 में 49 और 1972 में 11 सीटों पर जीत हासिल की।

राजघरानों ने सभी चुनावों में की है शिरकत

राजघरानों ने सभी चुनावों में की है शिरकत

राजस्थान के सभी बड़े राजघराने चुनाव का हिस्सा रहे हैं। महारानी गायत्री देवी तीन बार जयपुर की लोकसभा सीट से सांसद रहीं। उनके बेटे भवानी सिंह ने भी लोकसभा चुनाव लड़ा लेकिन हार गए, जोधपुर के शाही परिवार से गज सिंह, उदयपुर के अरविंद सिंह मेवाड़, बीकानेर के करणी सिंह, अलवर की महारानी महेंद्र कुमारी भी लोकसभा सासंद रह चुके हैं। जयपुर, उदयपुर, बीकानेर, अलवर, भरतपुर, कोटा, बिजौलिया, करौली और धौलपुर के राजघराने चुनावों में काफी सक्रिय रहे हैं।

बीकानेर राजपरिवार की सिद्धि कुमारी भी लड़ रहीं चुनाव

बीकानेर राजपरिवार की सिद्धि कुमारी भी लड़ रहीं चुनाव

पिछले चुनाव में, 200 में से 7 विधायक राजघराने से थे जिनमें धौलपुर के राजपरिवार की बहू और वर्तमान सीएम वसुंधरा राजे के अलावा, भरतपुर राजघराने की बेटी और राजस्थान सरकार में मंत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा, भरतपुर राजपरिवार से विश्वेंद्र सिंह, जयपुर राजपरिवार की बेटी दीया कुमारी, करौली राजपरिवार की बहू रोहिणी कुमारी, बीकानेर राजपरिवार की बेटी सिद्धि कुमारी और बिजौलिया राजघराने की बहू कीर्ति कुमारी शामिल हैं।

राजघराने की चार महिलाएं विधानसभा चुनाव लड़ रहीं

राजघराने की चार महिलाएं विधानसभा चुनाव लड़ रहीं

लेकिन अबकी तीन राजघराने राजस्थान विधानसभा चुनाव में नहीं दिखाई दे रहे हैं। करौली राजपरिवार की बहू रोहिणी कुमारी और जयपुर राजपरिवार की बेटी दीया कुमारी को टिकट नहीं दिया गया है। हालांकि दीया कुमारी पार्टी के साथ जुड़ी हुई हैं जबकि बिजौलिया राजघराने की बहू कीर्ति कुमारी का निधन हो गया है। लेकिन कोटा के राजपरिवार ने इस चुनाव में एंट्री की है और लाडपुरा विधानसभा सीट से इस घराने की बहू चुनाव लड़ रही हैं। उनके पति इज्जेराज सिंह कांग्रेस के लोकसभा सांसद थे। धौलपुर की वसुंधरा राजे, बीकानेर की सिद्धि कुमारी, भरतपुर के विश्वेंद्र सिंह, कृष्णेंद्र और दीपा कुमारी पहले ही चुनाव लड़ रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Royals of Rajasthan gradually diminishing from the electoral politics of the state
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X