• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कांग्रेस से ही नाराज हुईं प्रियंका, कहा- गुंडों को मिल रही तरजीह

|

नई दिल्ली। कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने अपनी पार्टी के खिलाफ ही बुधवार को मोर्चा खोल दिया। कांग्रेस की अनुशासन समिति ने प्रियंका चतुर्वेदी की प्रेस कॉन्फ्रेंस में हंगामा करने वाले 8 नेताओं को फिर से बहाल कर दिया है। प्रियंका ने इस पर नाराजगी जाहिर की है। प्रियंका चतुर्वेदी ने आरोप लगाया है कि पार्टी में उन गुंडों को तवज्जो दी जा रही है, जो महिलाओं के साथ बदसलूकी करते हैं। प्रियंका ने पार्टी के इस फैसले की ट्विटर पर आलोचना की है।

Priyanka Chaturvedi

प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्विटर पर लिखा कि, 'यह देखना बहुत दुखद है कि कुछ खराब आचरण करनेवाले लोगों को कांग्रेस में अपना खून-पसीना पार्टी को देनेवाले लोगों के स्थान पर तरजीह दी जा रही है। मैंने पहले भी अपनी पार्टी के लिए लोगों की ओर से फेंके पत्थर और अपशब्दों की मार सही हैं, लेकिन पार्टी के अंदर मेरे साथ दुर्व्यवहार करनेवालों को, मुझे धमकाने वालों को बिना किसी कार्रवाई के ऐसे ही छोड़ा जा रहा है, यह देखना दुर्भाग्यपूर्ण है।' पार्टी के इस फैसले के बाद प्रियंका काफी नाराज हुई हैं।

चतुर्वेदी ने यह बात एक पत्रकार को रिट्वीट करते हुए कही, जिसने कांग्रेस के नोटिस की एक तस्वीर संलग्न की थी। जिसमें कहा गया है कि प्रियंका चतुर्वेदी द्वारा हाल ही में पार्टी के कुछ नेताओं पर उनके साथ दुर्व्यवहार करने की शिकायत की थी। चतुर्वेदी की शिकायत के बाद पार्टी नेताओं को निलंबित कर दिया गया था। पत्र में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश पश्चिम के कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के हस्तक्षेप के बाद उन्हें फिर से बहाल करने का फैसला किया है। आपसे अपेक्षा की जाती है कि, निकट भविष्य में आप कुछ ऐसा नहीं करेंगे जिससे पार्टी के छवि को नुकसान पहुंचे।

ये मामला बीते साल सितंबर के आसपास का जब मथुरा में राफेल मुद्दे को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। जहां उनके साथ पार्टी के ही कुछ सदस्यों ने दुर्व्यवहार किया। हालांकि, उनकी इस शिकायत के बाद उन सदस्यों को पार्टी से निकाल दिया गया था, लेकिन फिर से उन्हें पार्टी में शामिल करने का पत्र जारी किया गया। इस सभी को ज्योतिरादित्य सिंधिया की सिफारिश के बाद इन कार्यकर्ताओं को बहाल किया गया है।

Video: गुजरात में नवजोत सिंह सिद्धू ने उड़ाया पीएम मोदी का मजाक, मंच पर करने लगे बाबा रामदेव की एक्टिंग

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

मथुरा की जंग, आंकड़ों की जुबानी
वर्ष
प्रत्याशी का नाम पार्टी स्‍थान वोट वोट दर मार्जिन
2014
हेमा मालिनी भाजपा विजेता 5,74,633 53% 3,30,743
जयंत चौधरी रालोद उपविजेता 2,43,890 23% 0
2009
जयंत चौधरी रालोद विजेता 3,79,870 52% 1,69,613
श्याम सुंदर शर्मा बीएसपी उपविजेता 2,10,257 29% 0
2004
मानवेंद्र सिंह कांग्रेस विजेता 1,87,400 31% 38,132
चौधरी लक्ष्मीनारायण बीएसपी उपविजेता 1,49,268 25% 0
1999
च. तेजवीर सिंह भाजपा विजेता 2,10,212 40% 41,727
रामेश्वर सिंह रालोद उपविजेता 1,68,485 32% 0
1998
तेजवीर भाजपा विजेता 3,03,831 49% 1,90,030
पूरन प्रकाश बीएसपी उपविजेता 1,13,801 18% 0
1996
तेज वीर सिंह भाजपा विजेता 1,67,369 34% 64,572
लक्ष्मी नारायण चौधरी कांग्रेस उपविजेता 1,02,797 21% 0
1991
स्वामी साक्षी जी भाजपा विजेता 1,56,523 34% 15,512
लक्ष्मी नारायण चौधरी जेडी उपविजेता 1,41,011 31% 0
1989
मानवेंद्र सिंह जेडी विजेता 2,33,318 50% 37,713
नटवर सिंह कांग्रेस उपविजेता 1,95,605 42% 0
1984
मानवेंद्र सिंह कांग्रेस विजेता 2,63,248 59% 1,03,400
गायत्री देवी एलकेडी उपविजेता 1,59,848 36% 0
1980
चौधरी दिगंबर सिंह जेएनपी(एस) विजेता 1,66,774 49% 82,663
आचार्य लक्ष्मी रामम कांग्रेस(आई) उपविजेता 84,111 25% 0
1977
मणीराम बीएलडी विजेता 2,96,518 77% 2,15,265
रामहेत सिंह कांग्रेस उपविजेता 81,253 21% 0
1971
चक्रेश्वर सिंह कांग्रेस विजेता 1,11,864 40% 21,439
दिगंबर सिंह चौधरी बीकेडी उपविजेता 90,425 32% 0
1967
जी. एस. एस. ए. बी. सिंह आईएनडी विजेता 1,72,785 57% 84,431
डी. एस. चौधरी कांग्रेस उपविजेता 88,354 29% 0
1962
चौधरी दिगंबर सिंह कांग्रेस विजेता 78,062 33% 26,884
राजा महेंद्र प्रताप आईएनडी उपविजेता 51,178 22% 0
1957
राजा महेंद्र प्रताप आईएनडी विजेता 95,202 41% 25,993
दिगंबर सिंह कांग्रेस उपविजेता 69,209 30% 0

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Priyanka Chaturvedi slams Congress after party revokes suspension of workers who misbehaved with her
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more