मिसाल: 67 साल की उम्र में वृद्धा ने पास किया MA, अब लॉ करने की तैयारी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
Tamil Nadu: 67 year old woman receives her MA Degree | वनइंडिया हिंदी

चेन्नई। कहते हैं पढ़ने और सीखने की कोई उम्र नहीं होती। जब दिल चाहे और परिस्थिति अनुकूल हो, आदमी पढ़ सकता है। इसी बात को अपना आदर्श बनाते हुए 67 वर्षीय वृद्ध महिला ने एमए की डिग्री हासिल की है। तमिल नाडु के चेन्नई की रहने वाली एम चेल्लाथाई ने इस उम्र में डिग्री हासिल कर एक मिसाल कायम की है।

Positive News

द हिंदु की रिपोर्ट के अनुसार रिटायर्ड क्लर्क एम चेल्लाथाई ने 67 साल में एमए की डिग्री ली है। चेल्लाथाई ने इस डिग्री को पाने के इंतजार में अपनी पूरी जिंदगी गुजार दी। वो हमेशा से पढ़ना चाहती थीं लेकिन उनके पिता ने उन्हें पढ़ने नहीं दिया। स्कूल के बाद जब वो क्वीन मैरी कॉलेज का फॉर्म लेकर आईं तो पिता ने उसे फाड़ दिया। पिता ने कहा कि परिवार में ज्यादा पढ़ाई पर कोई सहमत नहीं होगा।

आंखों में पढ़ाई के सपने सजोए बैठी चेल्लाथाई को हाथों में पति के नाम की महंदी लगानी पड़ी। उन्हें लगा कि शादी के बाद पति पढ़ने की इजाजत देगा। इसलिए वो अपने पति से बार बार पढ़ाई के लिए बोलती रहीं लेकिन उनके पति ने भी उन्हें पढ़ने नहीं दिया। शादी के कई सालों बाद उन्हें क्लर्क के तौर पर काम करने की इजाजत मिली। पढ़ाई की तरफ उन्होंने पहला कदम अपनी पति की मौत के बाद बढ़ाया। साल 2013 में उन्होंने अपनी बेटियों की मदद से पढ़ना शुरू किया और 28 नवंबर को अपनी एमए की डिग्री ली।

एम चेल्लाथाई ने तमिल नाडु ओपन यूनिवर्सिटी से इतिहास में एम किया है। वो आगे अब लॉ की पढ़ाई भी करना चाहती हैं। वाकई में सही कहा गया है, पढ़ने और सीखने की कोई उम्र नहीं होती।

ये भी पढ़ें: एंजलीना जॉली के जैसे दिखने के लिए इस लड़की ने करवाई 50 सर्जरी, लोगों ने नाम दिया 'Zombie'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Positive News: Woman in Chennai got her MA degree at the age of 67. She is an inspiration to millions.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.