NGT की अमरनाथ श्राइन बोर्ड को फटकार, कहा- नारियल फोड़ने पर लगे रोक

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

जम्मू। अमरनाथ यात्रा के दौरान दी जाने सुविधाओं को लेकर एनजीटी ने अमरनाथ श्राइन बोर्ड को कड़ी फटकार लगाई है। दक्षिणी कश्मीर में स्थित पवित्र गुफा के दर्शन करने हर साल लाखों लोग आते हैं। एनजीटी ने सुझाव दिया है कि अमरनाथ श्राइन गुफा के आसपास के क्षेत्र को 'साइलेंस जोन' घोषित किया जाना चाहिए, ताकि हिमस्‍खलन को रोका जा सके। इसके साथ ही एनजीटी ने साथ ही कहा कि गुफा के निकट चढ़ाए जाने वाले नारियल और प्रसाद पर भी रोक लगाई जानी चाहिए।

amarnath

अधिकरण ने सुप्रीम कोर्ट की ओर से साल 2012 में दिए गए निर्देशों का अनुपालन नहीं करने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये बोर्ड से पूछा कि इन वर्षों में उसने इस बारे में क्या कदम उठाए हैं। एनजीटी ने रिपोर्ट दिसंबर के पहले हफ्ते में पेश करने को कहा है। पीठ ने समिति को जांच के बाद उचित मार्ग, गुफा के ईदगिर्द के स्थल को साइलेंट जोन घोषित करने और मंदिर के निकट स्वच्छता बनाए रखने जैसे पहलुओं पर रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया।

एनजीट ने अमरनाथ श्राइन द्वारा बनाई गई पर्यावरण सुरक्षा कम़ेटी से यह भी पूछा है कि श्राइन के आस-पास बनी दुकानें और टॉयलेट अभी तक क्यों नहीं हटाई गईं हैं। एनजीटी ने श्राइन बोर्ड से कहा कि आपने तीर्थयात्रियों को उचित बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध क्यों नहीं कराई। आप तीर्थयात्रियों के बजाए व्यावसायिक गतिविधियों को तवज्जो दे रहे हैं। यह गलत है। मंदिर की पवित्रता का खयाल रखा जाना चाहिए। आपको बता दें कि 13 नवंबर को एनजीटी ने वैष्णो देवी के दर्शन को लेकर आदेश जारी करते हुए कहा था कि प्रतिदिन 50 हजार से ज्यादा लोगों को ऊपर गुफा की ओर नहीं जाने दिया जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
NGT wants Amarnath cave to be declared 'silence zone'
Please Wait while comments are loading...