• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

JNU में पीएम मोदी के स्‍वामी विवेकानंद की मूर्ति के अनावरण से पहले ही लगने लगे ‘Modi go back’ के नारे

|

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार(12नवंबर) को दिल्‍ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के परिसर में स्वामी विवेकानंद की विशालकाय प्रतिमा का अनावरण करने वाले हैं। प्रतिमा का अनावरण पीएम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करेंगे लेकिन इसके पहले ही JNU छात्र संघ (JNUSU) ने मोदी गो बैक के नारे लगाने शुरू कर दिया है और आज शाम 5 बजे वर्सिटी के नॉर्थ गेट पर विरोध सभा का आयोजन किया है।

pm

जेएनयू प्रशासन ब्लॉक में प्रतिमा अनावरण समारोह शाम 6:30 बजे निर्धारित किया गया है। हालाँकि इस अनावरण के पहले ही जेएनयू में विरोध आरंभ हो चुका है। जेएनयूएसयू के इस छात्र संघ द्वारा जारी एक पोस्टर पीएम मोदी को 'वापस जाने' के लिए कहा और एमओई (शिक्षा मंत्रालय) से 'जवाब' मांगता है। विरोध प्रदर्शन "विरोधी शिक्षा और छात्र विरोधी मोगी सरकार" जैसे नारे इसमें लिखे हुए हैं। इस पोस्‍टर में लिख MOE जवाब दो ! जेएनयू छात्रों का, संघ की जागीर नहीं!

जेएनयू में लगातार हो रहा पीएम मोदी का विरोध

बता दें इससे पहले जेएनयू के छात्र धन की बर्बादी का आरोप लगाते हुए प्रतिमा के निर्माण को लेकर जेएनयू प्रशासन पर लगातार हमला करते रहे हैं। जेएनयू के छात्र सनी धीमान ने मीडिया को बताया, "आखिरकार, मोदी जेएनयू का दौरा करने जा रहे हैं। भाजपा और आरएसएस जेएनयू से घृणा करते हैं और इसे राष्ट्रविरोधी, तुकड़े तुकडे गिरोह के नेता के रूप में पेश करते आए हैं। अक्टूबर 2016 में, हमने पीएम मोदी का पुतला जलाया था। आज पूरे भारत में किसान उनका पुतला जला रहे हैं। अगर स्वामी मोदी किसानों की समस्याओं को दूर करने में विफल रहते हैं तो यह स्वामी विवेकानंद की आत्मा के लिए सबसे बड़ी असहमति होगी।"

मोदी सरकार पर जेएनयू छात्र संघ लगा रहा ये आरोप

एक अन्य छात्र विष्णु प्रसाद ने कहा कि मोदी सरकार की प्राथमिकताएं गलत हैं। "हम स्वामी विवेकानंद की शिक्षाओं के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन प्राथमिकताओं को यहाँ ध्यान दिया जाना चाहिए। जब से यह सरकार आई है, वे जेएनयू के विचार पर हमला कर रहे हैं। वे अकादमिक गतिविधियों की लागत में लगातार वृद्धि कर रहे हैं। वे अनावश्यक चीजों पर पैसा बर्बाद कर रहे हैं। "

स्‍वामी विवेकानंद की मूर्ति के अनावरण से पहले पीएम मोदी ने किया ये ट्वीट

इस विरोध के बीच समारोह से पहले आज, पीएम मोदी ने आज सुबह ट्वीट किया "आज शाम 6:30 बजे, जेएनयू परिसर में स्वामी विवेकानंद की एक प्रतिमा का अनावरण करेंगे और इस अवसर पर अपने विचार साझा करेंगे। कार्यक्रम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित किया जाएगा। मैं आज शाम कार्यक्रम का इंतजार कर रहा हूं।"

छात्राें का ये विरोध प्रदर्शन समारोह से पहले होगा

छात्रों का ये विरोध प्रदर्शन समारोह शाम 5:30 बजे से शुरू होने वाले स्वामी विवेकानंद के एक कार्यक्रम से पहले होगा। जेएनयू के कुलपति ने पहले एक बयान में कहा कि "स्वामी विवेकानंद भारत के सबसे प्रिय बुद्धिजीवियों और आध्यात्मिक नेताओं में से एक हैं, जो भारत में उत्पादन करने के लिए भाग्यशाली रहे हैं। उन्होंने भारत में स्वतंत्रता, विकास, सद्भाव और शांति के संदेश के साथ युवाओं को उत्साहित किया। उन्होंने नागरिकों को भारतीय सभ्यता, संस्कृति और गर्व के लिए प्रेरित किया।

तमिलनाडु विवि ने अपने पाठ्यक्रम से हटाई अरुंधति रॉय की बुक, जानें क्यों ?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
'Modi go back' slogans started even before the unveiling of PM Modi's owner Swami Vivekananda's statue
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X