• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राम मंदिर की बात करने वालों पर भड़के संजय राउत, कहा- 'अभी प्रभु श्री राम भी चाहते हैं कि सुरक्षित घर पहुंचें प्रवासी मजदूर'

|

मुंबई। लॉकडाउन की वजह से सबसे ज्यादा श्रमिक मजदूर परेशान हैं, हालांकि सरकार की ओर से प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए बस और ट्रेन सेवाओं की व्यवस्था की जा रही है, बावजदू इसके मजदूरों का पैदल पलायन जारी है, इस मुद्दे पर जमकर सियासत भी हो रही है तो वहीं इसी बीच लॉकडाउन 4 में मिली छूट के बाद अयोध्या में प्रशासन से इजाजत के बाद ट्रस्ट की ओर से रामजन्मभूमि परिसर को समतल करने का काम भी शुरू हुआ है।

'अभी प्रभु राम चाहते हैं सुरक्षित घर पहुंचें श्रमिक'

'अभी प्रभु राम चाहते हैं सुरक्षित घर पहुंचें श्रमिक'

जहां की खुदाई में पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और शिवलिंग मिले हैं, जिसके बाद एक बार फिर से राम जन्मभूमि को लेकर बयानबाजी शुरू हो गई है, इस मसले पर अब तीखा वार किया है शिवसेना नेता संजय राउत ने, जिन्होंने एक मीडिया चैनल से बात करते हुए राम मंदिर को लेकर बयानबाजी करने वालों को आड़े हाथों लिया है, उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण को लेकर माहौल ना बनाएं, कोरोना संकट के बीच प्रभु राम भी चाहते हैं कि प्रवासी श्रमिक सुरक्षित घर पहुंचें, पहले हमारी प्राथमिकता वही होनी चाहिए और मंदिर का निर्माण बेहद ही शांतिपूर्वक होना चाहिए।

यह पढ़ें: Cyclone Amphan का तांडव, BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली के घर में गिरा पेड़, दादा ने शेयर की तस्वीर

संजय राउत बोले- मंदिर पर माहौल न बनाएं

संजय राउत बोले- मंदिर पर माहौल न बनाएं

राउत ने कहा कि अयोध्या में प्रभु श्री राम का जन्म हुआ था, जाहिर है वहां खुदाई में ऐसी ही चीजे मिलेंगी लेकिन इनसबको लेकर माहौल नहीं बनाना चाहिए और मंदिर का निर्माण शांति पूर्वक होना चाहिए, फिलहाल अभी सबकी प्राथमिकता प्रवासी श्रमिकों को घर पहुंचाना होना चाहिए, ये वक्त हिंदू-मुस्लिम, भारत-पाकिस्तान जैसे मुद्दों पर बहस करने का नहीं है इसलिए मैं लोगों से कहूंगा कि किसी भी तरह का माहौल बनाने की जरूरत नहीं है।

जारी है कोरोना वायरस का तांडव

जारी है कोरोना वायरस का तांडव

आपको बता दें कि देश में घातक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 1 लाख 18 हजार 447 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कोरोना वायरस के सर्वाधिक 6088 नए मामले सामने आए हैं और 148 लोगों की मौत हुई है। इसमें से 66,330 एक्टिव केस हैं, जबकि अबतक 3583 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कुल 48,533 लोग ठीक हो चुके हैं।

सबसे ज्यादा ग्रसित महाराष्ट

सबसे ज्यादा ग्रसित महाराष्ट

कोरोना से सबसे ज्यादा ग्रसित महाराष्ट है, जहां महाराष्ट्र में संक्रमितों की संख्या 40 हजार के करीब पहुंच गई है, राज्य में लगातार पांचवे दिन दो हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए है। गुरुवार को 2,161 नए मामलों के साथ राज्य में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 39,297 हो गई है। इनमें से मुंबई शहर में अकेले 25 हजार संक्रमित है। अब तक राज्य में 1,390 लोगों की जान भी जा चुकी है।

यह पढ़ें: घरेलू विमानों की टिकट बुकिंग आज से शुरू, Air India ने दी Good news

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Even Prabhu Shree Ram will want poor migrants to reach home safely. Ayodhya is the city of Shree Ram. You will find such a thing over there. However, the work of building a temple should happen peacefully said Sanjay Raut.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more