• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चोरी करने के बाद पसीजा चोर का दिल, छोड़ा माफीनामा, बताई क्‍या थी मजबूरी

|

नई दिल्ली। तमिलनाडु के मदुरै में जिस ईमानदारी से चोरी को अंजाम दिया गया, इससे पहले शायद ही आपने कभी ऐसा मामला सुना हो। दरअसल, मदुरै के उसिलामपट्टी में चोरी की एक अजीबोगरीब घटना सामने आई है। चोर ने उसी दुकान में हाथ साफ किया जहां वह पहले काम करता था। लेकिन चोर की ईमानदारी तो देखिए, जाने से पहले उसने अपने मालिक के लिए एक खत भी छोड़ा जिसमें उसने चोरी की बात कबूल की।

चोरी की ईमानदारी देख सब हैरान

चोरी की ईमानदारी देख सब हैरान

चोरी की ये घटना सिर्फ आप-पास के इलाकों में ही नहीं बल्कि अब सोशल मीडिया पर भी चर्चा का केंद्र बन गई है। लोग उस खत में लिखी बातों के बारे में जानना चाहते हैं जिसे चोर ने अपने मालिक के लिए छोड़ा था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उसिलामपट्टी के एक सुपरमार्केट में स्थित दुकान में काम करने वाले पूर्व कर्मचारी ने ही चोरी की अंजाम दिया है। उसने करीब 65 हजार के सामान और 5000 कैश पर हाथ साफ किया।

65 हजार का सामान और 5000 रुपए गायब

65 हजार का सामान और 5000 रुपए गायब

कवनंदनपट्टी के 30 वर्षीय एम रामप्रकाश उस्लीमपट्टी-मदुरै रोड पर स्थित दुकान के मालिक हैं। गुरुवार सुबह जब उन्होंने अपनी दुकान खोली तो उन्हें चोरी का पता चला। दुकान से दो कंप्यूटर, एक टेलीविजन और 5000 रुपए नकद गायब थे। इतना ही नहीं जब पुलिस ने छानबीन के लिए सीसीटीवी फुटेज को खंगाला तो पता चला कि चोर उसका भी रिकॉर्ड अपने साथ ले गया है।

चिट्ठी में चोर ने लिखी ये बातें

चिट्ठी में चोर ने लिखी ये बातें

एम रामप्रकाश को दुकान में ही चोर द्वारा लिखी गई एक चिट्ठी मिली जिसको पढ़ने के बाद सभी के होश उड़ गए। चोर ने लिखा था, 'माफ करिएगा, मेरे द्वारा चुराए गए सामान से आपको सिर्फ एक महीने के बराबर नुकसान होगा लेकिन यह मेरे लिए तीन महीने के बराबर है। एक बार फिर माफी मांगता हूं।' दरअसल, चोर काम नहीं करना चाहता था, इसलिए वह अपने खर्चे के लिए सामान लेकर भाग गया। चोर की इस ईमानदारी के बाद लोगों में यह खबर आग की तरह फैल गई।

चोर की तलाश में जुटी पुलिस

चोर की तलाश में जुटी पुलिस

पुलिस ने बताया कि चोर इसी दुकान में काम करता था इसलिए उसने हर छोटी-बड़ी गलती की संभावनाओं को खत्म करने का प्रयास किया। वह अपने साथ सीसीटीवी फुटेज का रिकॉर्ड भी ले गया है। हालांकि पुलिस अब फिंगरप्रिंट विशेषज्ञों की मदद से चोर की तलाश में जुट गई है। उसिलामपट्टी टाउन पुलिस ने आईपीसी की धारा 457 और 380 के तहत मामला दर्ज किया है और जांच शुरू कर दी है।

चिट्ठी लिख शख्स ने मंदिर से चुराई दान पेटी

चिट्ठी लिख शख्स ने मंदिर से चुराई दान पेटी

ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के सारनी से सामने आया था। यहां एक चोर ने चोरी करने से पहले भगवान के नाम एक चिट्ठी लिखी और फिर मंदिर की दान पेटी को तोड़कर उसने रखा कैश उड़ा ले गया। चिट्ठी में चोर ने अपने पापों की माफी मांगी थी। चोर ने चिट्ठी में कहा कि वह परेशान होने के कारण ऐसा काम कर रहा है। मंदिर से जुड़े लोगों के मुताबिक, मंदिर सार्वजनिक है। यहां कोई पुजारी नहीं रहता है। दान पेटी पिछले तीन सालों से नहीं खोली गई थी। पेटी में लगभग 40 से 50 हजार रुपये नकद राशि हो सकती है।

प्रसिद्ध साहित्कार फणीश्वर नाथ रेणु के घर पर चोरी, ' मैला आंचल ' का पहला संस्करण ले गए चोर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Madurai thief apologized by writing letter stealing goods worth 70 thousand rupees
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X