• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चीन को देता था गोपनीय खबर, एक सूचना पर 1 हजार डॉलर, जानें गिरफ्तार पत्रकार राजीव शर्मा का पूरा खेल

|

नई दिल्ली: स्वतंत्र पत्रकार राजीव शर्मा को केंद्रीय खुफिया एजेंसी की सूचना के आधार पर 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। (Journalist Rajeev Sharma Arrest).ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट (Official Secrets Act) के तहत गिरफ्तार राजीव शर्मा की गिरफ्तारी हुई है। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने फ्रीलांस पत्रकार राजीव शर्मा को लेकर कई खुलासे किए हैं। दिल्ली पुलिस ने बताया है कि राजीव शर्मा के पास से रक्षा मंत्रालय के गोपनीय दस्तावेज मिले हैं। पुलिस ने यह भी बताया कि राजीव शर्मा भारतीय सेना और सरकार की सीमा रणनीति की जानकारी चीन (China) के खुफिया विभाग को दे रहा था।

Rajeev Sharma

हर सूचना के लिए गिरफ्तार पत्रकार Rajeev Sharma को मिलते थे 1 हजार डॉलर

    Syping Case: Journalist Rajeev Sharma समेत एक चीनी और नेपाली नागरिक भी गिरफ्तार | वनइंडिया हिंदी

    दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि चीनियों को गोपनीय सूचना देने के आरोप में गिरफ्तार राजीव शर्मा को बीते डेढ़ साल में 40 लाख रुपये मिले थे। पुलिस के मुताबिक राजीव शर्मा को चीनियों को हर एक सूचना के बदले 1000 डॉलर मिलते थे।

    दिल्ली पुलिस ने यह भी बताया है कि राजीव शर्मा चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में रक्षा मामलों पर लिखता था। साल 2016 में राजीव शर्मा एक चीनी एजेंट के संपर्क में आया था। उसके बाद से ही वह चीन के खुफिया विभाग के लिए काम कर रहा था।

    साल 2016 से 2018 के बीच राजीव शर्मा था ज्यादा एक्टिव

    दिल्ली पुलिस के मुताबिक राजीव शर्मा 2016 से 2018 तक संवेदनशील जानकारी चीनी खुफिया अधिकारियों तक लगातार पहुंचा रहा था। इन दो सालों में वह काफी एक्टिव था। इतना ही नहीं वह अलग-अलग देशों में चीनी सरकार के अधिकारियों से मिलता था और जानकारी देता था।

    पुलिस ने बताया कि राजीव शर्मा को किंग शी और शेर सिंह ने शेल कंपनियों के जरिए काफी मात्रा में पैसे दिए थे। राजीव शर्मा के पास करीब 40 के पत्रकारिता का अनुभव है। राजीव शर्मा यूनाइटेड न्यूज ऑफ इंडिया, द ट्रिब्यून, फ्री प्रेस जर्नल जैसे संस्थानों में काम कर चुके हैं।

    22 सितंबर को होगी कोर्ट में राजीव शर्मा की पेशी

    राजीव शर्मा को 14 सितंबर को दिल्ली के पीतमपुरा से उसके घर से गिरफ्तार किया गया था। 15 सितंबर को राजीव को कोर्ट में पेश किया गया था। जहां से कोर्ट ने उसे 6 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया था। इस मामले में 22 सितंबर को पटियाला हाउस कोर्ट में जमानत पर सुनवाई है।

    इससे पहले दिल्ली पुलिस ने एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को गिरफ्तार किया था। आरोपियों के पास से पुलिस को कई मोबाइल, लैपटॉप और अन्य सामग्री भी बरामद हुए हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Journalist Rajeev Sharma was involved in passing sensitive defense & strategic information to Chinese intelligence officers from 2016 to 2018. he has written articles for Chinese media agency Global Times as a freelance journalist. he take $1000 to china for every signal information.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X