• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

J&K DDC polls में भाजपा झोंक रही अपनी पूरी ताकत, जानें कौन हैं पार्टी के स्‍टार प्रचारक

|

नई दिल्‍ली। जम्‍मू-कश्‍मीर में डीसीसी के चुनाव (J&K DDC polls) चल रहे हैं। इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी अपनी पूरी ताकत झोंक रही है। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां), अन्य कश्मीर केंद्रित पार्टियों के अलावा, प्रशासन पर डीडीसी चुनावों में भेदभाव करने और भाजपा को शुरुआती लाभ देने का आरोप लगा रहे हैं। वहीं विपक्षी दल इसका रोना रो रहे है लेकिन भाजपा अपने 'स्टार' प्रचारकों को चुनावी सफलता की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए जम्मू-कश्मीर में चल रहे जिला विकास परिषद (डीडीसी) के चुनावों में पूरा दम लगा रही है।

bjp

तीसरे और चौथे चरण में होंगे भाजपा के स्‍टार प्रचारक

डीडीसी चुनावों के तीसरे और चौथे चरण के लिए भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को अपने 'स्टार' प्रचारकों की एक और सूची जारी की। इनमें केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, ​​सांसद और पंजाबी गायक हंसराज हंस, पूर्व सांसद सुरेंद्र नागर, सांसद रमेश बिधूड़ी और पार्टी के राष्ट्रीय सचिव विजय राहटकर शामिल हैं। भाजपा में पदाधिकारियों ने कहा कि क्रिकेटर बने भाजपा सांसद गौतम गंभीर पार्टी के लिए चल रहे डीडीसी चुनाव में भी प्रचार करेंगे।केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह और अनुराग ठाकुर, जो जम्मू-कश्मीर के चुनाव प्रभारी, सेहराभरी या पार्टी के सह-प्रभारी जेएंडके, आशीष सूद और जम्मू-कश्मीर के भाजपा अध्यक्ष रविंदर रैना के साथ पहले से ही पार्टी के उम्मीदवारों के लिए दौरा और प्रचार कर रहे हैं।

आठ चरणों में हो रहे ये चुनाव

गौरतलब है कि 280 डीडीसी निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदान आठ चरणों में आयोजित किए जा रहे हैं- 28 नवंबर, 1 दिसंबर, 4, 7, 10, 13, 16 और 19 दिसंबर। मतदान का समय सुबह 7 से दोपहर 2 बजे तक है।

विपक्ष के आरोप का प्रशासन ने दिया ये जवाब

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां), अन्य कश्मीर केंद्रित पार्टियों के अलावा, प्रशासन पर डीडीसी चुनावों में भेदभाव करने और भाजपा को शुरुआती लाभ देने का आरोप लगा रहे हैं। हालांकि, लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा और राज्य चुनाव आयुक्त केके शर्मा सहित जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने आरोपों को खारिज कर दिया है। नवंबर में डीडीसी के चुनावों से दो दिन पहले, एलजी ने बताया था कि जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक गतिविधियों के लिए पूर्ण स्वतंत्रता थी, लेकिन राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के लिए नहीं।

किसी भी उम्मीदवार को प्रचार से रोका नहीं जा रहा है

चुनाव आयुक्त शर्मा ने पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ़्ती की नज़रबंदी की रिपोर्टों का भी खंडन किया था और कहा था कि किसी भी उम्मीदवार को प्रचार से रोका नहीं जा रहा है।"वह पुलवामा की यात्रा करना चाहती थी और सुरक्षा कारणों से उसे वहाँ न जाने की सलाह दी गई। वह नजरबंद नहीं है ये पुलिस ने भी स्पष्ट किया है। पहले चरण में, UT ने 51.76% मतदान दर्ज किया था, उसके बाद दूसरे चरण में जम्मू और कश्मीर में 48.62% मतदान हुआ।

लव-जिहाद कानून के बाद यूपी की योगी सरकार वापस लेने जा रही 44 साल पुरानी विवाह से जुड़ी ये योजना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
J&K DDC elections: BJP goes full steam,Smriti Irani among star campaigners
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X