• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

यात्रीगण कृपया ध्यान दें! रेलवे ने शुरू की 660 नई ट्रेनें, देखें अपने जोन की लिस्ट

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, जून 19: देश में कोरोना के केस जैसे-जैसे कम होते जा रहा हैं, वैसे-वैसे रेलवे ने रेलगाड़ियों की संख्या में इजाफा करना शुरू कर दिया है। भारतीय रेलवे ने देश भर में कोविड-19 मामलों की घटती संख्या के बीच प्रवासी मजदूरों को यात्रा करने और वेटिंग लिस्ट को क्लियर करने में मदद करने के लिए विभिन्न जोन में 660 अतिरिक्त ट्रेनों के संचालन को मंजूरी दी है। सुधरते हालात के कारण उद्योग धंधे शुरू हो रहे हैं। घरों को लौटे मजदूर और कामगार फिर से वापस आने शुरू हो गए हैं। इससे यात्री ट्रेनों की मांग बढ़ी है, जिसको देखते हुए रेलवे ये फैसला लिया है।

1 जून से 18 जून के बीच 660 अतिरिक्त ट्रेनें

1 जून से 18 जून के बीच 660 अतिरिक्त ट्रेनें

भारतीय रेलवे ने एक बयान में कहा कि महामारी से पहले हर दिन औसतन लगभग 1768 मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन किया जा रहा था। अभी शुक्रवार तक प्रतिदिन 983 ट्रेनें परिचालन हो रहा है। जो कि प्री-कोविड स्तर का लगभग 56% है। मांग और व्यावसायिक औचित्य के अनुसार ट्रेनों की संख्या को धीरे-धीरे बढ़ाया जा रहा है। 1 जून से 18 जून के बीच 660 अतिरिक्त ट्रेनों में 552 मेल/एक्सप्रेस स्पेशल और 108 हॉलिडे स्पेशल ट्रेनें शामिल हैं।

108 हॉलीडे स्पेशल ट्रेन

108 हॉलीडे स्पेशल ट्रेन

बयान में कहा गया है कि एक जून को करीब 800 मेल एवं एक्सप्रेस रेलगाड़ियों का परिचालन हो रहा था। रेलवे ने बताया, 'एक जून से 18 जून के बीच जोनल रेलवे द्वारा 660 अतिरिक्त मेल/,एक्सप्रेस रेलगाड़ियों के परिचालन की मंजूरी दी गई। इनमें से 552 मेल और एक्सप्रेस रेलगाड़ियां हैं जबकि 108 हॉलीडे स्पेशल ट्रेन हैं। रेलवे ने बताया कि जोनल रेलवे को स्थानीय परिस्थितियों, टिकट की उपलब्धता और क्षेत्र में कोविड-19 की स्थिति का आकलन करते हुए चरणबद्ध तरीके से ट्रेनों का परिचालन बहाल करने के लिए कहा गया है

    Indian Railway: बेंगलुरू से चलेंगी ये Special Trains, जानें कब से शुरू होगी बुकिंग | वनइंडिया हिंदी
    किस जोन में कितनी ट्रेनें

    किस जोन में कितनी ट्रेनें

    उत्तर मध्य रेलवे में 16, मध्य रेलवे में 26, पूर्वी मध्य रेलवे में 18, दक्षिण पूर्वी मध्य रेलवे जोन में 16, सेंट्रल जोन में 70, ईस्टर्न रेलवे में 68, नॉर्थ ईस्टर्न रेलवे जोन में 38, नॉर्थ-ईस्ट फ्रंटियर रेलवे जोन में 28, नॉर्थ रेलवे में 158, नॉर्थ- वेस्टर्न रेलवे में 34, साउथ ईस्टर्न रेलवे जोन में 60, साउथ- सेंट्रल रेलवे जोन में 84, वेस्टर्न -सेंट्रल जोन में 28, वेस्टर्न रेलवे जोन में 16 ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दी गई है। यह कुल संख्या 660 है।

    कोरोना की स्थिति पर नजर रखेगी रेलवे

    कोरोना की स्थिति पर नजर रखेगी रेलवे

    रेलवे ने अपने बयान में कहा गया है कि, रेलवे ने जोनल रेलवे को निर्देश दिया है कि स्थानीय जरूरतों को देखते हुए ट्रेनें संचालित की जाएं। इसमें कोरोना की स्थिति का भी ध्यान रखना है। अगर कोरोना संक्रमण तेज है तो ट्रेनों के फेरे कम किए जाएंगे या अतिरिक्त एहतियात के साथ संचालन होगा। ट्रेनों को चलाने से पहले उस जोन में टिकट की मांग भी देखी जा रही है। अगर यात्रियों की मांग ज्यादा है तो रेलवे की तरफ से ज्यादा ट्रेनों को चलाने की इजाजत दी जा रही।

    English summary
    Indian Railways has approved the operation of 660 additional trains in various zones to help migrant labourers travel
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X