• search

#HerChoice: ‘पति से मेरा कोई रिश्ता नहीं, फिर भी साथ रहती हूं’

By Bbc Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    शून्य का कार्टून
    BBC
    शून्य का कार्टून

    मेरी शादी के 10 साल हो चुके हैं. इन 10 सालों में मेरे और मेरे पति के बीच सिर्फ़ एक बार जिस्मानी रिश्ता बना, हमारे हनीमून पर. उस वक़्त मुझे उसका बर्ताव सहज महसूस नहीं हुआ.

    दरअसल, उसे मुझसे शादी करनी ही नहीं थी. अपने मां-बाप के दबाव में आकर उसने मुझसे शादी की थी. अपनी मां के कहने पर ही वो एक बार मेरे क़रीब आया था.

    --------------------------------------------------------------------------------------

    #HerChoice भारतीय महिलाओं के वास्तविक जीवन की कहानियों पर आधारित बीबीसी की विशेष सिरीज़ है. ये कहानियां 'आधुनिक भारतीय महिला' के विचार और उके सामने मौजूद विकल्प, उकी आकांक्षाओं, उकी प्राथमिकताओं और उकी इच्छाओं को पेश करती है.

    ----------------------------------------------------------------------------------------

    वो भी सिर्फ़ अपनी मर्दानगी साबित करने के लिए. मुझे यह बताने के लिए कि वो नामर्द या नपुंसक नहीं है.

    हनीमून की उस रात के बाद से आज तक हमारा रिश्ता सामान्य नहीं हो पाया.

    मैंने कभी ख़ुद से पहल करने की कोशिश की भी, तो उसने यह कहकर मेरी फ़ीलिंग्स का अपमान किया कि मुझे सेक्स के सिवाय कुछ और सूझता ही नहीं.

    इन सबका असर मेरे स्वास्थ पर भी हुआ. कम उम्र में ही मैं डिप्रेशन और तमाम दूसरी बीमारियों की शिकार हो गई.

    इसके बाद भी मैंने हालात से समझौता करने की कोशिश की. सोचा कि पति-पत्नी न सही, हम अच्छे दोस्तों की तरह तो रह सकते थे. मैं नहीं चाहती थी कि हमारे बुरे रिश्ते का असर मेरी बेटी पर पड़े, लेकिन उसे ये भी मंज़ूर नहीं.

    न वह मुझे तलाक़ देता है और न ही अपना बर्ताव सुधारता है. बेटी अब बड़ी हो रही है. उसे भी अपने पापा का प्यार उनके 'मूड' के मुताबिक ही मिलता है.

    मैं चाह कर भी कुछ नहीं कर पा रही हूं क्योंकि मेरे पास न तो मायके का सपोर्ट है और न ससुराल वालों का. कई बार अकेले रहने का ख़्याल मन में आया, लेकिन डरती हूं कि अगर मुझे कुछ हो गया तो मेरी बेटी को कौन संभालेगा?

    ये भी ज़रूर पढ़ें:

    #HerChoice: मैं लेस्बियन हूं और मेरी मां ये जानती हैं

    'अगले दस दिन के लिए ना मैं किसी की पत्नी, ना ही मां'

    #HerChoice: 'मैंने शादी नहीं की, इसीलिए तुम्हारे पिता नहीं हैं'

    (हमारी सिरीज़ #HerChoice में बहुत सी पाठिकाओं ने कहा कि वे अपनी कहानियां शेयर करना चाहती हैं. यह कहानी गुड़गांव के एक दंपती की सच्ची कहानी है जिसे हमारी पाठिका मोनी बरसमीस ने भेजा है.)

    (बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    I don't have any relationship with my husband, but I still stay with him

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X