• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

चाइना ने बीजिंग ट्रेड फेयर में प्रदर्शित किया कोविड 19 वैक्‍सीन, जानें बाजार में कब आएगी

|

नई दिल्‍ली। दुनिया भर में कोरोनावायरस महामारी फैलाने के लिए जिम्‍मेदार चाइना अंतरराष्ट्रीय आलोचना प्राप्त करने के बाद अब कोरोना को लेकर नई भूमिका निभाने की फिराक में है। चाइना ने बीजिंग ट्रेड फेयर में एक नहीं बल्कि दो कोरोना से बचाव की वैक्‍सीन का लांच किया है। ये वैक्‍सीन चाइना की दो कंपनियां सिनोवैक बॉयोटेक और सिनोफार्म ने तैयार किया है।

2020 के अंत तक बाजार में उपलब्ध होगी ये वैक्‍सीन

2020 के अंत तक बाजार में उपलब्ध होगी ये वैक्‍सीन

चीन ने पहली बार अपने देश में निर्मित बायोटेक और सिनोपार्म द्वारा विकसित कोविड 19 की वैक्‍सीन का प्रदर्शन किया है। इस सप्ताह बीजिंग के ट्रेड फेयर में प्रदर्शित की गई कोरोना वैक्‍सीन को लेकर बड़ी उम्मीदें टिकी हुई हैं। चीनी कंपनियों सिनोवैक बायोटेक और सिनोपार्म द्वारा निर्मित वैक्सीन को हालांकि अभी बाजार में जारी नहीं किया गया है, लेकिन इस वैक्‍सीन को बनाने वाली कंपनियों को उम्मीद है कि उन्हें 2020 के अंत तक महत्वपूर्ण चरण 3 परीक्षणों का ट्रायल समाप्‍त होने के ये वैक्‍सीन बाजार में उपलब्ध होगी। इस वैक्‍सीन का अभी तीसरे चरण का क्लिनिकल ट्रायल अभी जारी है। इस वैक्‍सीन के सभी ट्रायल्‍स सफलतापूर्व समाप्‍त होने के बाद इसे बाजार में जारी कर दिया जाएगा।

देश का सबसे बड़ा COVID केयर सेंटर 15 सितंबर से हो जाएगा बंद, जानें क्यों?

    Coronavirus: China ने पेश की अपने यहां बनी पहली Corona Vaccine | वनइंडिया हिंदी
    एक साल में 300 मिलियन खुराक का करेगा उत्पादन

    एक साल में 300 मिलियन खुराक का करेगा उत्पादन

    सिनोवेक कंपनी के एक अधिकारी ने जानकारी दी कि उसकी फर्म ने पहले ही "वैक्सीन कारखाने का निर्माण पूरा कर लिया है" एक साल में 300 मिलियन खुराक का उत्पादन करने में सक्षम है। सोमवार को चीन में बिजिंग ट्रेड फेयर में प्रदर्शित किए गए इस टीके को देखने के लिए भारी संख्‍या में दर्शक देखने पहुंचे।

    अलोचना झेल रहा चीन सुधारना चाहता है अपनी छवि

    अलोचना झेल रहा चीन सुधारना चाहता है अपनी छवि

    गौरतलब है कि चाइना ने जो अपने यहां आज वैक्‍सीन प्रदर्शित की है वो दुनिया की उन 10 वैक्‍सीनों में शामिल है जिनके आखिरी चरण का क्लिनिकी ट्रायल चल रहा है। कोरोना के कारण आर्थिक संकट झेल रहे सभी देश अपनी हालत को सुधारने में जुटे हैं। वैक्‍सीन के सफल होने के बाद ही उसे आधिकारिक मान्‍यता दे दी जाएगी। कोरोना महामारी से निपटने में नाकाम चीन को विश्‍व स्‍तर पर आलोचना सहनी पड़ी यही वजह है कि चााइना वैक्‍सीन के विकास को लेकर इतनी तत्‍परता दिखा रहा है। ये भी खबरें है कि चीन ने कुछ लोगों को वैक्‍सीन के अंतिम चरण के बिना ही वैक्‍सीन दे दी है। विदेश मंत्री भी यूरोप यात्रा के दौरान वुहान का गुणगान कर रहे थे ।

    वुहान के पुनरुद्धार पर जोर दे रहा है चीन

    वुहान के पुनरुद्धार पर जोर दे रहा है चीन

    चाइना मीडिया और अधिकारी अब वुहान के पुनरुद्धार पर जोर दे रहे हैं, चीन का शहर वुहान जहां इस जानलेवा कोरोना का जन्‍म हुआ उस जगह को लेकर चााइना एक बाद फिर प्रोपेगेंडा फैलाने का प्रयास कर रहा है। चीनी एजेंसियां इस शहर से जुड़ी नकरात्‍मक छवि को तोड़ने में जुटी हुई हैं। मई में, राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चीन द्वारा विकसित किसी भी संभावित वैक्सीन को "वैश्विक सार्वजनिक अच्छा" बनाने का संकल्प लिया था।

    टीकों की कीमत अधिक नहीं होगी

    टीकों की कीमत अधिक नहीं होगी"

    चीन के राष्ट्रवादी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने पिछले महीने रिपोर्ट दी थी कि "टीकों की कीमत अधिक नहीं होगी"। रिपोर्ट में कहा गया है कि सिनोपार्म के अध्यक्ष का हवाला देते हुए, प्रत्येक दो खुराक की कीमत 1,000 युआन ($ 146) से कम होनी चाहिए।

    दिल्ली में COVID-19 केस में हुई तेजी से वृद्धि, क्या ये कोरोना की दूसरी लहर हैं?

    कोरोना वैक्सीन की रेस में ये चार देश आगे, जानिए इनसे जुड़ी अहम बातें

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    China displays 2 Covid vaccines at Beijing Trade Fair, Know when it will come in market
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X