• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भाजपा विधायक का मुसलमानों के खिलाफ विवादित टिप्पणी....मैं तुम्हारी जगह दिखाऊंगा

|

नई दिल्ली- कर्नाटक में बीजेपी के एक विधायक और मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के राजनीतिक सलाहकार एमपी रेणुकाचार्य ने मुसलमानों और मस्जिदों को लेकर बहुत ही विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने ये भड़काऊ बयान सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आयोजित एक रैली में दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मस्जिदों का इस्तेमाल फतवा जारी करने और हथियार इकट्ठा करने के लिए होता है। उन्होंने ये भी धमकी दी है कि वे अपने इलाके में मुस्लिमों के लिए आने वाले फंड का हिंदुओं के लिए खर्च करेंगे। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि मैं बताऊंगा कि राजनीति हो क्या है?

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल

बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल

कर्नाटक में भाजपा के विधायक एमपी रेणुकाचार्य ने मुसलमानों पर आरोप लगाया है कि वह मस्जिदों का उपयोग नमाज पढ़ने की बजाय हथियार जमा करने के लिए करते हैं। उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आयोजित एक रैली में कहा, 'कुछ ऐसे देशद्रोही हैं, जो मस्जिद में बैठते हैं और फतवा लिखते हैं। वह मस्जिद के अंदर दुआ करने की बजाय हथियार जमा करते हैं। क्या आप इस तरह की मस्जिद चाहते हैं?' रेणुकाचार्य यहीं नहीं रुके। उन्होंने यहां तक कहा कि वे मुसलमानों के लिए आवंटित पैसों को हिंदुओं के लिए इस्तेमाल करने से भी नहीं हिचकिचाएंगे। उन्होंने कहा, 'मैं अपने तालुक में ऐसी राजनीति का इस्तेमाल करूंगा जहां मुसलमानों के लिए आवंटित धन का इस्तेमाल हिंदुओं के लिए किया जा सके। मैं तुम्हें (मुसलमानों को) अपनी जगह पर पहुंचा दूंगा और दिखाऊंगा कि राजनीति है क्या....'

पहले भी विवादों में आ चुका है नाम

पहले भी विवादों में आ चुका है नाम

रेणुकाचार्य को सीएम येदियुरप्पा ने अपना राजनीतिक सलाहकार बनाने के अलावा कैबिनेट मंत्री का भी दर्जा दिया हुआ है। कुछ समय पहले उनकी कुछ 'किसिंग' की तस्वीरें भी सामने आई थीं, जिस पर खूब हंगामा मचा था। बता दें कि देश में एक तरफ नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं तो दूसरी तरफ पार्टी इसके समर्थन में भी रैलियां कर रही है। इसी के दौरान रेणुकाचार्य ने कथित दौर पर विवादास्पद बयान दिया है। बता दें कि देश के कई जगहों पर अभी भी इस कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं और मामला सुप्रीम कोर्ट में भी पहुंच चुका है। जिसके जवाब में भाजपा की ओर से भी समर्थन रैलियां की जा रही हैं।

किसी भी कीमत पर वापस नहीं होगा सीएए- अमित शाह

किसी भी कीमत पर वापस नहीं होगा सीएए- अमित शाह

उधर नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में बीजेपी के बड़े नेता भी रैलियां कर रहे हैं। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को यूपी की राजधानी लखनऊ में इसके समर्थन में एक सभा को संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि विपक्ष सीएए को लेकर भ्रम फैला रहा है। लेकिन, उन्होंने दो टूक कह दिया है कि चाहे जितना विरोध करना है कर ले, लेकिन किसी भी कीमत पर सीएए वापस नहीं लिया जाएगा। गौरतलब है कि नागरिकता संशोधन कानून पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक उत्पीड़न का शिकार होकर आने वाले हिंदुओं, सिखों, क्रिश्चियनों, पारसियों, जैनों और बौद्धों को भारतीय नागरिकता देने का कानून है। इसी के बाद से इसे मुसलमानों के साथ भेदभाव वाला कानून बताया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें- असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- 'माशाअल्लाह मोदी है तो हर नामुमकिन-मुमकिन है', जानिए क्या है वजहइसे भी पढ़ें- असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- 'माशाअल्लाह मोदी है तो हर नामुमकिन-मुमकिन है', जानिए क्या है वजह

English summary
A BJP MLA in Karnataka disputed remarks about Muslims, I will show you your place
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X