• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बेंगलुरू: कांग्रेस फर्जी वोटर आईडी कार्ड बनवा रही है- भाजपा

|

नई दिल्ली। चुनाव आयोग और बेंगलुरू पुलिस ने सोमवार को चिकपेट में फर्जी वोटर आईडी कार्ड छपने की खबर के बाद कई जगह पर छापेमारी की, लेकिन इस दौरान छापेमारी में उसे सिर्फ वोटर आईडी स्लिप मिली। इस छापेमारी के बाद भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस ने एक दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। भाजपा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस फर्जी वोटर आईडी कार्ड छपवा रही है और इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है।

congress

वोटर आईडी कार्ड की ये स्लिप चिकपेट में प्रभात कॉम्पलेक्स में पाई गई है। बता दें कि यह जगह मुख्य रूप से अधिक से अधिक वोटिंग के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए तैयार किया गया था। बीबीएमपी के कमिश्नर एन मंजूनाथ प्रसाद ने कहा कि हमे वहां पर वोटर आईडी की पर्ची मिली। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने दिए पते पर नहीं रहते हैं, लेकिन उनका वोटर आईडी कार्ड उसी पते पर बना है, उन्हें यह पर्ची देनी थी। यह एक शुरुआत वोटिंग को बढ़ाने के लिए की गई थी। इस मामले में कोई केस दर्ज नहीं किया गया है और ना ही कोई गिरफ्तारी की गई है।

लोकसभा चुनाव से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

भाजपा ने इस बाबत चुनाव आयोग को शिकायत की है और आरोप लगाया है कि कई लोग फर्जी वोटर आईडी कार्ड बनवा रहे हैं,यहां से कई आईडी कार्ड और मशीन बरामद की गई है। कर्नाटक भाजपा की ओर से कई ट्वीट किए गए हैं जिसमे कहा गया है कि कांग्रेस के उम्मीदवार अरशद रिजवान यह रैकेट चला रहे हैं, इस मामले में 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं अरशद ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा इसलिए यह आरोप लगा रही है क्योंकि वह नहीं चाहते हैं कि एक आम आदमी यहां से चुनाव जीते। ये लोग बर्दाश्त नहीं कर सकते कि संसद में आम आदमी आप लोगों का प्रतिनिधित्व करे।

इसे भी पढ़ें- आप-कांग्रेस के बीच गठबंधन के रास्ते अभी बंद नहीं हुए हैं, जारी है मंथन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP alleges congress is involved in producing fake voter ID in Bengaluru.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X