• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बलिया के प्राइमरी स्कूल में मिड डे मील के लिए छात्र अपनी अलग प्लेट लेकर पहुंचे

|

बलिया। उत्तर प्रदेश के एक सरकारी स्कूल में ऐसा नजारा देखने को मिला जिसे देखकर किसी भी सभ्य समाज का सिर शर्म से झुक जाएगा। दरअसल बलिया के रामपुर में स्थित प्राइमरी स्कूल में मिड मील खाना खाने के लिए तमाम बच्चे अलग से अपनी प्लेट लेकर स्कूल पहुंचे थे। इसकी वजह यह है कि ये बच्चे एससी/एसटी छात्रों के साथ प्लेट साझा नहीं करना चाहते हैं। एक छात्र ने बताया कि स्कूल में दी जाने वाली प्लेट में कोई भी खाना खा सकता है, यही वजह है कि हम अलग से अपनी प्लेट घर से लेकर आते हैं, जिससे कि हम अपनी प्लेट में ही खाना खा सके।

School

बता दें कि इससे पहले खबर सामने आई थी कि बलिया में मुस्लिम बच्चों को थाली की जगह पत्तल में खाना परोसा जाएगा। यूपी के मीरजापुर रइळाके में मिड डे मील में छात्रों को खाने में नमक रोटी दी गई थी, जिसके बाद काफी विवाद हुआ था, उसके बाद पत्तल में खाना परोसने की खबर से एक बार फिर से यहां विवाद खड़ा हो गया है। एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है जिसमे देखा जा सकता है कि अलग-अलग समुदाय के बच्चों को पत्तल में मिड डे मील परोसा गया है। जबकि कुछ छात्रों को थाली में खाना दिया गया।

वीडियो सामने आने के बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया। जिसके बाद इस मामले की रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपी गई। जानकारी के अनुसार यह वीडियो तीन हफ्ते पुराना है। आरोप है कि पर्याप्त मात्रा में थाली होने के बाद भी भेदभाव के चलते बच्चों को पत्तल में खाना परोसा गया। घटना सामने आने के बाद खंड शिक्षाधिककारी निर्भय नारायण सिंह ने बताया कि बच्चो ने अपने मन से पत्तल में खाना खाया है।

इसे भी पढ़ें- IMD Alert: अगले 24 घंटे इन राज्यों पर भारी, आंधी-तूफान की आशंका, अलर्ट जारी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ballia: Students bring their own plates to eat mid day meal in school.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X